पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आत्महत्या:औलाद न होने से परेशान महिला फंदे से लटकी, पति-जेठ पर केस

अमृतसर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृतका रेखा का फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
मृतका रेखा का फाइल फोटो।
  • मजीठा रोड की गुलमोहर कॉलानी में घटना, पोस्टमार्टम आज

मजीठा रोड स्थित ​​​​गुलमोहर कॉलोनी में बुधवार सुबह विवाहिता रेखा (27) ने पंखे से फंदे पर लटककर जान दे दी। मायके पक्ष के लोगों ने आरोप लगाया कि बेटी के संतान नहीं होने के चलते सुसराल वाले ताने देते थे। इसी के चलते बेटी की जान गई है। थाना सदर पुलिस ने विवाहिता के पति रघुराज और जेठ विक्की के खिलाफ धारा 306 के तहत केस दर्ज किया है।

मृतका रेखा का पोस्टमार्टम वीरवार सुबह सिविल अस्पताल में होगा।सेवा केंद्र में कार्यरत मृतका के पति रघुराज ने कहा कि वह सुबह 6 बजे सब्जी मंडी गया था। सवा सात बजे उसके बड़े भाई विक्की का फोन आया कि रेखा दरवाजा नहीं खोल रही है। उसने भाई से कहा कि रेखा सो रही होगी, उठकर दरवाजा खोल देगी।

10 मिनट बाद फिर भाई ने फोन करके बताया कि रेखा ने अभी तक दरवाजा नहीं खोला है। जिसके बाद वह 7.30 बजे मंडी से निकला और 7.50 बजे घर पहुंचा। इसके बाद उसने कमरे की खिड़की तोड़ी तो देखा कि उसकी पत्नी रेखा ने दुपट्‌टे का फंदा बनाकर पंखे से लटकी हुई थी। रघुराज ने कहा कि उसका और रेखा का रिश्ता बहुत अच्छा चल रहा था और रात दोनों ने एक साथ सीरियल भी देखा था।

4 दिन से कह रही थी मम्मी फोन न करना मैं तंग हूं: मां - जोड़ा फाटक धरमपुरा निवासी मृतका की मां राजरानी ने कहा कि उसकी बेटी रेखा चार दिन से कह रही थी कि उसे फोन न करें, वह तंग है। उन्होंने उससे पूछा कि क्या हुआ है, लेकिन बेटी ने कुछ नहीं बताया। वहीं मृतका के पिता विनोद कुमार के मुताबिक उनकी बेटी का 5 साल पहले विवाह हुआ था और वह 4 माह की प्रेग्नेंट भी थी। बुधवार सुबह उनकी बेटी के

जेठ विक्की ने फोन करके उन्हें घर बुलाया। जब वह अपनी बहु के साथ बेटी के ससुराल पहुंचे तो रेखा की मौत हो चुकी थी। उसकी डेडबॉडी को पंखे से ससुरालियों ने ही उतारा। वहीं ससुरालियों ने उन्हें बताया कि रेखा ने सुबह सभी को चाय पिलाई थी और फिर अपने कमरे मे चली गई और दोबारा दरवाजा नहीं खोला। विनोद ने कहा कि उनकी बेटी आत्महत्या नहीं कर सकती, उसे मजबूर किया गया है।

रेखा के मायके वाले ही किसी बाबा को दिखा रहे थे : रघुराज के मुताबिक उसके ससुराल वाले ही रेखा को वेरका में किसी बाबा को दिखा रहे थे, जो कहता था कि 5 माह से पहले प्रेग्नेंसी टेस्ट न कराएं। जबकि रघु रेखा का प्रेग्नेंसी टेस्ट कराने के पक्ष में था। वहीं पंखे से लटकी हुई रेखा की लाश को उसके ससुर और सालेहार ने भी देखा था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें