बैसाखी पर पाकिस्तान जाएगा जत्था:SGPC ने खालसा सृजना दिवस के लिए श्रद्धालुओं से मांगे आवेदन, 31 दिसंबर तक जमा करवाएं पासपोर्ट

अमृतसर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुद्वारा श्री पंजा साहिब। - Dainik Bhaskar
गुरुद्वारा श्री पंजा साहिब।

बैसाखी के दिन को खालसा सृजना दिवस के तौर पर भी मनाया जाता है। इस दिन पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा पंजा साहिब में श्रद्धालु नतमस्तक होते हैं। अगर आप भी इस पावन अवसर पर पाकिस्तान जाना चाहते हैं तो शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) ने आवेदन मांग लिए हैं। इसके लिए पासपोर्ट, जरूरी दस्तावेज और पासपोर्ट साइज तस्वीरों को 31 दिसंबर 2021 से पहले गोल्डन टेंपल स्थित SGPC कार्यालय में जमा करवा दें।

गौरतबल है कि कुछ समय पहले ही पाकिस्तान ने 3000 भारतीय श्रद्धालुओं को श्री गुरु नानक देव जी के प्रकाशपर्व पर वीजा दिया था। 1000 के करीब श्रद्धालुओं को SGPC की तरफ से पाकिस्तान ले जाया गया था। 10 दिन के इस वीजा में श्रद्धालुओं ने पाकिस्तान के विभिन्न गुरुद्वारों के दर्शन किए थे। इसी तरह खालसा सृजना दिवस के अवसर पर भी हर साल श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान के लिए रवाना होता है।

पिछले साल कोरोना के कारण जत्था पाकिस्तान नहीं जा पाया था। अनुमान है कि अप्रैल 2022 में हालात और ठीक जो जाएंगे तो पाकिस्तान अधिक श्रद्धालुओं को वीजा प्रदान करेगा।

SGPC सदस्य की रिकमेंडेशन की होती है आवश्यकता

SGPC की तरफ से जारी गाइडलाइंस के अनुसार, कोई भी श्रद्धालु, चाहे वह किसी भी धर्म का हो, आवेदन कर सकता है। लेकिन यह आवेदन 31 दिसंबर 2021 से पहले SGPC कार्यालय के यात्री डिपार्टमेंट में जमा हो जाने चाहिएं। इसके लिए SGPC के किसी भी सदस्य की रिकमेंडेशन जरूरी है। श्रद्धालुओं को अपना पासपोर्ट, आधार कार्ड या वोटर कार्ड की कॉपी और पासपोर्ट साइज फोटो जमा करवानी होगी।