पंजाब को दहलाने की साजिश नाकाम:इंटरनेशनल बॉर्डर से हेरोइन के साथ 22 पिस्टल, 44 मैगजीन और 100 कारतूस बरामद, ड्रोन से भेजने की आशंका

अमृतसरएक महीने पहले
बॉर्डर पर कंटीली तारों के पास मिली हथियारों की खेप।

त्योहारी सीजन में पंजाब को दहलाने की कोशिश को पंजाब पुलिस ने नाकाम कर दिया। बुधवार को पुलिस ने तरनतारन के साथ लगती भारत-पाक सीमा से हथियार और नशा बरामद किया है। पंजाब पुलिस और BSF ने यह सांझी कार्रवाई करते हुए बीओपी मियांवाली हिथार खेमकरण सेक्टर में की गई। जॉइंट टीम ने 22 पिस्तौल, 44 मैगजीन, 100 जिंदा कारतूस और करीब एक किलो हेरोइन बरामद की है। पुलिस ने आशंका जताई है कि ड्रोन के जरिए यह खेप पाकिस्तान से भारत में पहुंचाई गई है।

DGP इकबालप्रीत सहोता
DGP इकबालप्रीत सहोता

डीजीपी इकबालप्रीत सहोता ने बताया कि काउंटर इंटेलिजेंस को सूचना मिली थी कि बॉर्डर के पास हथियारों की खेप फेंकी गई है। इसके बाद पंजाब पुलिस के काउंटर इंटेलिजेंस ने BSF के अधिकारियों के साथ संपर्क साधा और सर्च ऑपरेशन शुरू किया। इस दौरान BOP मियांवाली हिथार की फेंसिंग के पास धान के खेत में काले रंग का किट बैग मिला। इसमें यह हथियारों और नशे की खेप रखी गई थी। बैग में 22 पिस्टल .30 एमएम, 44 मैग्जीन, 100 गोलियां 7.63 एमएम, एक किलोग्राम हेरोइन और अफीम का पैकेट मिला है।

बरामद हुए हथियार
बरामद हुए हथियार

तस्करों की सहायता से भेजी गई खेप
DGP सहोता ने जानकारी दी कि इस खेप को भारत भिजवाने के पीछे पाकिस्तानी तस्करों का हाथ है। जिसे भारत में उनके साथियों ने उठाना था। हालांकि इससे पहले ही पुलिस ने उसे बरामद कर लिया। पुलिस ने तस्करों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट, आर्म्स एक्ट और अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। अब पाक तस्करों के साथ भारत में इसे उठाने वाले तस्करों की भी पड़ताल की जा रही है।

काले रंग का किट बैग, जिसमें हथियार रखे गए थे।
काले रंग का किट बैग, जिसमें हथियार रखे गए थे।

माहौल खराब करने के लिए हो रहे हथियार सप्लाई
DGP सहोता ने जानकारी दी कि यह हरकतें पंजाब के माहौल को खराब करने के लिए की जा रही हैं। बीते दिनों बटाल के पूरियां कलां निवासी जगजीत सिंह जग्गू से 48 पिस्टल रिकवर की गई थी। वहीं SSOC की टीम ने 39 पिस्टल मध्य प्रदेश के बड़वानी से जब्त की थी। अब जो 22 पिस्टल रिकवर किए गए हैं, उनका इस्तेमाल भी पंजाब के माहौल को खराब करने के लिए ही किया जाना था।

राजाताल में भी सुनी गई ड्रोन की मूवमेंट
फेंसिंग के पास गश्त कर रहे जवानों को रात राजाताल के पास भी ड्रोन की मूवमेंट की आवाज सुनने को मिली थी। जिसके बाद जवानों ने आवाज की तरफ हवाई फायर भी किए। फिर ड्रोन वापस चला गया। रात से ही बॉर्डर पर सर्च अभियान चलाया जा रहा है। आशंका है कि यहां भी हथियार या नशे के पैकेट्स फेंके गए हों।

चंडीगढ़ में पत्रकारों से बात करते डिप्टी सीएम रंधावा
चंडीगढ़ में पत्रकारों से बात करते डिप्टी सीएम रंधावा

डिप्टी सीएम बोले, पाकिस्तान से नहीं खतरा
इस बरामदगी के बावजूद पंजाब में गृह विभाग देख रहे डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा का दिलचस्प बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि पंजाब को पाकिस्तान या चाइना से खतरा नहीं है। इस बरामदगी के बावजूद वो पाकिस्तान की साजिश के बजाय बॉर्डर पर तैनात BSF पर सवाल उठा रहे हैं। उनका कहना है कि अगर बॉर्डर पर इतनी सख्ती है तो हथियार और नशा पंजाब के भीतर कैसे आ रहा है?। क्या कोई उनसे मिला हुआ है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह
कैप्टन अमरिंदर सिंह

अमरिंदर ने फिर उठाया सवाल
पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस बरामदगी के बहाने फिर से पंजाब में सुरक्षा के लेकर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा कि पहले भी हथियारों और नशे की बरामदगी की गई है। अब फिर से यह बरामदगी स्पष्ट करती है कि पंजाब में सुरक्षा के लिहाज से हालात चिंताजनक हैं। इसी वजह से उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से मुलाकात कर पूरी स्थिति से अवगत करवाया था।