ज्योतिर्लिंग यात्रा का शेड्यूल जारी:3 साल बाद पटरी पर लौटी IRCTC की ट्रेन; 7 नवंबर को पठानकोट से होगी रवाना, गोवा की सैर भी

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी की बंदिशें खत्म होने के बाद IRCTC भी पटरी पर लौट आई है। ज्योतिर्लिंग यात्रा विद गोवा ट्रेन एक बार फिर टूर पर जाने को तैयार है। इस बार यह यात्रा जयपुर तक ही सीमित न रहते हुए गोवा तक जाएगी, जिसमें 4 ज्योतिर्लिंग के साथ गोवा की सैर भी होगी। तकरीबन 3 सालों के बाद यह ट्रेन दोबारा पटरी पर लौट रही है।

पहले इस ट्रेन को 17 अक्टूबर को रवाना करने का सोचा जा रहा था, लेकिन फेस्टिवल सीजन देखते हुए इसके समय में बदलाव किया गया है। अब इसे 7 नवंबर को रात 9 बजे पठानकोट से रवाना किया जाएगा। 7 नवंबर को ट्रेन अपने निर्धारित समय व रूट के अनुसार पठानकोट से बटाला, अमृतसर, जालंधर, लुधियाना, चंडीगढ़, अंबाला, दिल्ली, रेवाड़ी, अलवर, बांदीकुई होते हुए जयपुर पहुंचेगी।

जिसके बाद सबसे पहले ट्रेन गोवा की सैर करवाएगी। फिर महाकालेश्वर, ओंकारेश्वर, द्वारका, नागेश्वर, सोमनाथ, स्टेच्यू ऑफ यूनिटी और साबरमती आश्रम का भ्रमण कराएगी। ट्रेन 11 रात और 12 दिन के बाद 28 नवंबर को वापस पठानकोट पहुंचेगी। इस ट्रेन के एसी कोच का किराया 18990 रुपए व स्लीपर का 11340 रुपए प्रति व्यक्ति निर्धारित किया गया है।

किराए में ठहरने, खाने व ट्रांसपोर्ट तक सब सुविधाएं

कोई भी व्यक्ति IRCTC की वेबसाइट से बुकिंग करवा सकता है। किराए में ही ट्रांसपोर्ट, ठहरना, खाना-पीना शामिल है। ट्रेन में बुकिंग के लिए ऑनलाइन या आईआरसीटीसी के ऑफिस से ऑफलाइन टिकट बुक करवाए जा सकते हैं। इस यात्रा में केंद्रीय कर्मचारी एलटीसी भी क्लेम कर सकते हैं, जिसके लिए उन्हें आईआरसीटीसी द्वारा अलग से सर्टिफिकेट भी जारी किया जाएगा।

कोविड गाइडलाइंस का रखना होगा ध्यान

यात्रियों को सफर के दौरान अपना निजी सामान व जरूरी दवाएं साथ रखनी होंगी। इसके अलावा कोविड गाइडलाइंस का भी पूरा ध्यान रखना होगा। मास्क पहनना जरूरी होगा। इसके अलावा हर किसी के मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप भी होनी जरूरी है।

खबरें और भी हैं...