लोकसभा उपचुनाव:ढिल्लों को 13,252 और गोल्डी को 7133 वोट मिले

बरनाला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
काउंटिंग स्थल पर बातचीत करते हुए केवल सिंह ढिल्लों। - Dainik Bhaskar
काउंटिंग स्थल पर बातचीत करते हुए केवल सिंह ढिल्लों।

लोकसभा हलका संगरूर का उपचुनाव हार कर भी भाजपा के प्रत्याशी केवल सिंह ढिल्लों खुद को भाजपा में स्थापित करने में सफल रहे। कांग्रेस ने उन्हें कमजोर नेता कह कर बरनाला से एमएल का टिकट नहीं दिया था। उन्होंने यहीं से कांग्रेस से लगभग दोगुने वोट हासिल किए। केवल सिंह ढिल्लों ने कहा कि प्रदेश के लोगों में भाजपा के प्रति जो गलतफहमी थी वह दूर हो गई है। भाजपा हर गांव में बूथ तक पहुंच चुकी है।

गौरतलब है कि 3 महीने पहले बीते विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने उनका बरनाला से उनका टिकट काटकर पूर्व रेल मंत्री पवन बंसल के बेटे मनीष बंसल को दिया था। इसके बाद से वह कांग्रेस से नाराज चल रहे थे और पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण कांग्रेस ने उन्हें पार्टी से बाहर कर दिया था। लोकसभा उपचुनाव से कुछ समय पहले वह भाजपा में शामिल हुए और भाजपा ने उन्हें टिकट दे दी।

ढिल्लों के नजदीकी सूत्रों के अनुसार ढिल्लों का मुख्य मकसद विधानसभा हलका बरनाला से कांग्रेस से अधिक वोट हासिल करना था। विधानसभा हलका बरनाला से उपचुनाव में केवल सिंह ढिल्लों को 13,252 वोट मिले जबकि कांग्रेस के दलवीर सिंह गोल्डी को 7133 वोट मिले। केवल ढिल्लों ने कहा कि कांग्रेस के प्रधान अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कहा था कि केवल ढिल्लो के जाने से कांग्रेस मजबूत हो गई है लेकिन कांग्रेस अब पूरी तरह से खत्म हो गई है।

खबरें और भी हैं...