तलवार लटकी:डीसी ऑफिस के कर्मचारियों ने सूबा सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाकर की नारेबाजी

बरनाला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 12 साल से पक्की नौकरी के नोटिफिकेशन का रहे थे इंतजार, कच्ची नौकरी पर तलवार लटकी

12 साल से डीसी ऑफिस में आउटसोर्सिंग पर काम कर रहे 26 कर्मियों की नौकरी पर तलवार लटक गई है। सरकार बदलने के बाद यह कर्मचारी पक्की नौकरी का इंतजार कर रहे थे लेकिन अब उनकी नौकरी जा सकती है। वीरवार को कर्मचारियों डीसी ऑफिस के समक्ष धरना देकर नारेबाजी की। उन्होंने कहा, वे सरकार के खिलाफ आरपार की लड़ाई लड़ेंगे। कर्मचारी नेताओं ने बताया कि बरनाला जिला बनाने के बाद यहां कर्मियों की कमी थी। सरकार ने मंजूर पोस्टों पर भर्ती की थी ताकि काम चलाया जा सके। तब से सभी कर्मचारी काम कर रहे हैं लेकिन अब उनकी नौकरी पर तलवार लटक गई है क्योंकि अगर नए कर्मचारी आ जाएंगे तो पुरानी पोस्टों को खत्म कर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि सभी कर्मचारी 40 से 45 साल की आयु में पहुंच गए हैं, जिससे वे और कोई काम करने के काबिल नहीं रहेंगे। उन्होंने कहा कि अगर उनकी मांग पर ध्यान नहीं दिया गया तो वे संघर्ष करेंगे। मुख्यमंत्री भगवंत मान ने चुनाव से पहले कर्मचारियों को पक्का करने का वादा किया था लेकिन अब उनसे धक्केशाही की जा रही है। बता दें कि सिविल अस्पताल तपा में आउटसोर्सिंग पर काम कर रहे 30 कर्मियों को फंड न होने का हवाला देकर नौकरी से निकाल दिया था। उनका संघर्ष अभी तक चल रहा है। कर्मचारियों ने कहा कि अगर उनके साथ ऐसा करने की कोशिश की तो वे किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं करेंगे। इस दौरान डीसी दफ्तर कर्मचारी यूनियन के प्रधान तजिंदर सिंह, उप प्रधान रेशम सिंह, निर्मलजीत सिंह, विक्की, जगराज सिंह, अमरिंदर सिंह, अंशु गुप्ता, ललित कुमार, कृपाल सिंह, रमनदीप कौर आदि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...