एक्शन प्लान:15 दिन में पूरे शहर में चेकिंग करेंगी विभाग की 25 टीमें, लारवा मिला तो कटेगा चालान

अबोहर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए कमिश्नर ने निगम व स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ की बैठक

शहर में डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए नगर निगम के कमिश्नर अभिजीत कपलिश ने बुधवार को स्वास्थ्य विभाग और निगम अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्हें जरूरी दिशा-निर्देश दिए। इस बैठक में फाजिल्का से डेंगू नियंत्रण अधिकारी अमित मिगलानी, सरकारी अस्पताल के एसएमओ डाॅ. गगनदीप सिंह, नोडल अफसर डाॅ. धर्मवीर अरोड़ा, डेंगू लैब इंचार्ज डाॅ. सोनिमा छाबड़ा विशेष तौर पर मौजूद थे। बैठक में इन अधिकारियों ने डेंगू से लड़ने के लिए एक विशेष प्लान तैयार किया। कमिश्नर कपलिश ने कहा कि शहर में डेंगू के केस अब धीरे-धीरे बढ़ने शुरू हो गए हैं, जिसे देखते हुए लोगों को भी सतर्क करें और घरों व दफ्तरों की समय-समय पर चेकिंग करते रहें।

उन्होंने कहा कि नगर निगम ने स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से 25 टीमें तैयार की हैं, जिनमें हर एक टीम में 2 सफाई सेवक और एक मल्टीपर्पज हेल्थ वर्कर को शामिल किया गया है। सफाई कर्मचारी घरों में कीटनाशक दवा का छिड़काव करेगा, जबकि स्वास्थ्य कर्मी लारवा की जांच कर लारवा पाए जाने पर चालान काटेगा। हर दिन की रिपोर्ट कमिश्नर ऑफिस में दी जाएगी। वे घर-घर जाकर चेकिंग करेंगे और 15 दिन में पूरे शहर को कवर किया जाएगा। इस दौरान जिन लोगों के घरों में भी डेंगू का लारवा पाया गया, उनके चालान काटे जाएंगे। यदि कोई भी गृहस्वामी चालान कटवाने में आना कानी करेगा तो उन्हें अदालती कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा। इस मौके पर स्वास्थ्य कर्मचारी टहल सिंह, जगदीश कुमार, अमनदीप सिंह, सेनेटरी इंस्पेक्टर करतार सिंह, जसविंदर सिंह, गुरजिंदर सिंह, प्रदीप कुमार सहित अन्य कर्मचारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...