मांग / सर्वे के पैसे एक सप्ताह में दे सरकार

Government should give survey money in a week
X
Government should give survey money in a week

  • सिविल अस्पताल में आशा वर्करों ने एसएमओ डॉ. गगनदीप सिंह को मांगपत्र सौंपा
  • चेतावनी-आशा वर्करों को सर्वे के पैसे जल्द न मिले तो सर्वे बंद करेंगे

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

अबोहर. कोरोना में फ्रंटलाइन पर काम कर रही आशा वर्करों की मांगों को अनदेखा किए जाने के खिलाफ पंजाब भर में यूनियन ने धरना प्रदर्शन किए जा रहे हैं, वहीं शुक्रवार को सिविल अस्पताल में आशा वर्करों ने प्रधान अंजू बाला के नेतृत्व में एसएमओ डॉ. गगनदीप सिंह को मांगपत्र सौंपा।

इस मौके पर जिला प्रधान नीलम रानी विशेष रूप से मौजूद थी। मांगपत्र सौंपने से पूर्व आशा वर्करों ने बैठक करते हुए बीते दिनों मलेरकोटला में एक आशा वर्कर साथी की भयंकर गर्मी के दौरान सर्वे करते हुए शुगर बहुत कम होने से मौत होने पर गहरा शोक जताया और सरकार से उसके परिवार को उचित मुआवजा देने की मांग की।

इससे पहले भी दिल्ली में एक आशा वर्कर की कोरोना की जंग में कोरोना पॉजिटव होने पर मौत हो गई थी, लेकिन सरकार उनके परिवारों को बनता सहयोग नहीं कर रही। 

उन्होंने रोष जताते हुए कहा कि बीते दिनों सरकार ने समस्त आशा वर्करों को जनवरी माह से जून तक सर्वे करने के बदले में इंक्रीमेंट देने का वादा किया था, लेकिन अब मई माह भी बीतने को है, पर उनके खातों में पैसे नहीं डाले गए। 

सर्वे के काम के चलते उनके अन्य काम प्रभावित हुए है, आशा वर्करों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर एक सप्ताह में उन्हें इंक्रीमेंट राशि जारी न हुई तो वे कोरोना के सर्वे का काम बंद कर देंगी।

एसएमओ गगनदीप सिंह ने कहा कि वे अपने स्तर पर उनकी हर मांग को पूरा कर रहे हैं, लेकिन उनके इंक्रीमेंट के पैसे न मिलने की मांग के लिए वे उच्चाधिकारियों को अवगत करवाएंगे व इनका मांगपत्र भी उन तक पहुंचाएंगें।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना