हड़ताल:मीटर रीडरों ने निजी कंपनियों के अंडर काम करने से मना कर शुरू की हड़ताल

अबोहर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब राज्य बिजली बोर्ड के तहत आउटसोर्स पर काम करते कच्चे मीटर रीडर यूनियन ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है। मीटर रीडरों ने अपनी मांगों को लेकर एक रोष रैली करते हुए निजी कंपनियों के अंडर कार्य करने पर मना कर दिया है और इस संबंधी डिवीजन इंजीनियरों को मांग पत्र भी सौंप दिया है।

मीटर रीडर यूनियन के नेता लवप्रीत सिंह ने बताया कि बिजली विभाग में निजी कंपनी के तहत उन्हें 9 साल से भी अधिक समय काम करते हो गया है। परंतु निजी कंपनियों द्वारा उनका शोषण किया जा रहा है। कंपनियों द्वारा मीटर रीडरों को वेतन नाममात्र दिया जाता है, जिससे उनके घर का गुजारा चलना मुश्किल हो गया है। इतना ही नही यह कंपनियां मीटर रीडरों को सही समय पर वेतन भी उपलब्ध नहीं करवाती है। इसलिए वे निजी कंपनियों की गलत नीतियों से परेशान होकर मजबूरी में कार्य बंद कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...