पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

भास्कर खुलासा:पंजाब-राजस्थान बॉर्डर पर खेतों में खोल रखे हैं खोखे जमीन खोदकर 4 फीट के टैंकों में रखते हैं शराब

अबोहर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बड़ा सवाल: क्या पंजाब - राजस्थान प्रशासन यहां भी मौतों के बाद ही कार्रवाई करेगा
  • तरनतारन की तरह पंजाब राजस्थान बॉर्डर पर दबी हुई है लाखों लीटर जहरीली शराब
  • बेखौफ तस्कर: घरों में भी वाटर कूलर में शराब डालकर गिलास, क्वार्टर के हिसाब से पिलाते हैं

(रोहित वाट्स) जहरीली शराब से 110 लोगों की मौत के बाद गहमा-गहमी मची हुई है, वहीं अबोहर से महज 25 किमी दूर पंजाब-राजस्थान बाॅर्डर पर तरनतारन जैसी बिना डिग्री वाली लाखों लीटर शराब का जखीरा गंग कैनाल के किनारे राजस्थान एवं पंजाब के तस्करों ने दबाया हुआ है और दोनों राज्यों के तस्कर इसे अलग-अलग इलाकों में सालों से सप्लाई कर रहे हैं।

इन तस्करों का दबदबा इतना है कि कोई छोटा मोटा अधिकारी कार्रवाई को पहुंच जाए उसे जान बचाकर भागना ही पड़ता है। पुलिस में अपने खौफ के चलते सरहद पर बसे गांवों के लोग धड़ाधड़ पंजाब और राजस्थान की सीमावर्ती गांवों में अवैध शराब की होम डिलीवरी तक कर देते हैं। भास्कर टीम ने रविवार और सोमवार को गांव गुमजाल, पंजावा, शेरगढ़, कुलार, तूतवाला, दीवानखेड़ा, राजपुरा, शेरेवाला, पट्‌टी सदीक, दोदेवाला, चक्क राधेवाला आदि गांवों का खुफिया ढंग से दौरा किया।

पंजावा, कुलार आदि गांवों में खुलेआम शराब की अवैध दुकानें खुली हुईं थीं। टीम जब धीरे-धीरे पंजावा से होते हुए तूतवाला के रास्ते से राजस्थान के गांव 500 एलएनपी के निकट पहुंची तो वहां तस्करों का झुंड शुरू हो गया। गांव के व्यक्ति ने बताया कि 500 एलएनपी के आस-पास ज्यादातर लोग इसी कारोबार से जुड़े हैं।

घरों में वाटरकूलर में शराब को डालकर गिलास, क्वाटर के हिसाब से पिलाते हैं। क्वाटर 30 से 50 रुपए में मिलता है जो कि ठेकों पर डबल रेट में मिलता है। फाजिल्का के एसएसपी के अनुसार पहले गंग कैनाल में दबी शराब को निकाला था लेकिन तस्करों ने फिर से धंधे को शुरू कर दिया।

श्रीगंगानगर और फाजिल्का करेगा संयुक्त कार्रवाई : एसएसपी

फाजिल्का के एसएसपी हरजीत सिंह ने स्वीकार किया कि राजस्थान हद में बिना डिग्री वाली शराब तस्करों ने दबा रखी है। ज्यादा सप्लाई पंजाब में ही होती है, इसे रोकने के लिए उन्होंने श्रीगंगानगर के एसपी से बातचीत की है और एक दो दिन में जखीरा नष्ट करेंगे। शराब की तस्करी छोटे रास्तों से हो रही है लेकिन इन्हें पकड़ने का प्रयास किया जाता है तो ये लोग चकमा देकर फरार हो जाते हैं।

शाम 4 बजे सजनी शुरू हो जाती हैं दुकानें : ठेकेदार

अबोहर शराब ठेकेदार भिंदा से ने बताया कि 4 बजे के बाद राजस्थान बार्डर पर शराब की दुकानें सजनी शुरू हो जाती हैं। पियक्कड़ों के लिए तस्करों ने खेतों में ही चखने और नमकीन के भी प्रबंध कर रखा है। जो शराब पिलाई जा रही है उससे तरनतारन जैसी स्थित बन सकती है।

कवरेज रुकवाने का करता रहा प्रयास

शराब के कारोबार की दुकानें सजाने में किसी का रोल हो या न हो लेकिन विपिन सेतिया नामक ठेकेदार गोरखधंधे का मास्टर माइंड लग रहा है। टीम जब रविवार को सीमा पर बनाए गए शराब के अड्‌डों की जांच कर रही थी तो 30 मिनट के बाद ही विपिन सेतिया ने टीम से संपर्क का प्रयास करते हुए खबर प्रकाशित न करने का आग्रह किया। उसके संपर्क से पता चला कि सेतिया ने राजस्थान हद में कई अवैध शराब की दुकानें खुलवाई हुई हैं, वह दुकानें किसकी शह पर खुली हैं वो पुलिस प्रशासन के लिए जांच का विषय है।

ठेकों पर 6000 की सेल तस्करों की लाखों में
पूरी कहानी टटोलने पर ये भी पता चला है कि पंजाब-राजस्थान सीमा पर बसे कुछ गांवों के ठेकों पर बिक्री का इतना बुरा हाल है कि मोटे-मोटे अनुमान के अनुसार जहां पहले एक दिन में 15 से 20 हजार रुपए प्रति ठेके की सेल हुआ करती थी अब वो 3 हजार रुपए से लेकर सिर्फ 6 हजार रुपए प्रतिदिन रह गई है। जबकि अवैध शराब का कारोबार करने वाले इस जहरीली शराब को बेचकर लाखों रुपए प्रतिदिन अपनी सेल कर लेते हैं।

क्या तरनतारन जैसी घटना के बाद होगी कार्रवाई
थोड़े दिन पहले तरनतारन आदि इलाकों में 110 लोग जहरीली शराब के सेवन से मारे गए, वहां सरकार को पछतावा हो रहा है कि अगर पहले कदम उठा लिया होता तो ये घटनाक्रम घटित ही न होती। अफसरों, कर्मचारियों को सस्पेंड किया जा रहा है। लेकिन पंजाब-राजस्थान सीमा पर तरनतारन की तरह अवैध शराब बन है, बिक रही है। यहां भी अप्रिय घटना हो सकती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें