विरोध:अध्यापक यूनियन का संघर्ष 14वें दिन भी जारी, चार प्रोफेसर भूख हड़ताल पर

अबोहरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 7वें वेतन आयोग लागू न करने व यूजीसी से वेतनमान डीलिंक करने का विरोध

पंजाब फेडरेशन ऑफ यूनिवर्सिटी एंड कॉलेज टीचर्स ऑर्गेनाइजेशन के आह्वान पर पंजाब भर के यूनिवर्सिटी एवं काॅलेज प्राध्यापकों का संघर्ष निरंतर जारी है। इसी क्रम में डीएवी कॉलेज अबोहर की टीचर्स यूनियन ने पंजाब सरकार द्वारा प्रोफेसरों के 7वें वेतन आयोग को लागू नहीं करने और यूजीसी से वेतनमान को डीलिंक करने का विरोध प्रदर्शन लगातार 14वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान महाविद्यालय की समस्त गतिविधियों का बहिष्कार किया जा रहा है।

पीसीसीटीयू के जिलाध्यक्ष डॉ. राजेश खत्री ने कहा कि पि-फैक्टो के आह्वान पर कॉलेज की ओर से आठवें दिन प्रो. अरुण ठठई, जितेश सोनी, विजय छाबड़ा, डॉ. संदीप अग्रवाल भूख हड़ताल पर बैठे हैं। उन्होंने बताया कि यह राज्यव्यापी संपूर्ण शिक्षा बंद के तहत प्रदर्शन तब तक जारी रहेगा, जब तक पंजाब सरकार सातवें वेतन आयोग को लागू नहीं कर देती और यूजीसी से वेतनमान को डी-लिंक करने का फैसला वापस नहीं ले लिया जाता। इस दौरान रोष रैली का भी आयोजन किया गया और सरकार की शिक्षा विरोधी नीतियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। सोमवार को भी पीसीसीटीयू के प्रतिनिधियों ने पीसीसी अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू से इस सिलसिले में मुलाकात की। उन्होंने आश्वासन दिया कि इन मांगों पर सकारात्मक कार्य किया जा रहा है एवं जल्द ही इन्हें स्वीकार कर लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...