पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सवा 5 साल पुराने हत्याकांड में बड़ा फैसला:कार डुबोकर पत्नी, बच्चों और नौकर की हत्या करने वाले को 5 साल बाद फांसी की सजा, साथ देने वाली नौकर की पत्नी को उम्रकैद

मुक्तसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अपने प्यार को परवान चढ़ाने के लिए चार जिंदगियों को मौत में तब्दील करने वाले पलविंदर सिंह और कर्मजीत कौर की फाइल फोटो। यह फोटो हत्या के 6 महीने बाद दोनों के द्वारा शादी कर लिए जाने के बाद की है।
  • 2015 में अटारी के पलविंदर ने नहर में कार डुबोकर चार लोगों की हत्या कर दी थी
  • घटना के 6 महीने बाद प्रेमिका नौकर की पत्नी से शादी की, तब मामले का खुलासा हुआ था

पंजाब के मुक्तसर से गुरुवार को 4 लोगों की हत्या के मामले में 5 साल बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है। कोर्ट ने हत्या के दोषी युवक को फांसी, जबकि उसकी पत्नी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। मुक्तसर में दोषी ने अपनी पत्नी, दो बच्चों और अपनी प्रेमिका के पति की हत्या कर दी थी। उसके 6 महीने के बाद दोनों ने शादी कर ली थी।

दोषी पलविंदर सिंह का अपने ही खेल में काम करने वाले निर्मल सिंह की पत्नी कर्मजीत कौर के साथ अवैध संबंध थे। पलविंदर सिंह और कर्मजीत कौर ने प्रेम में रुकावट बन रहे परिवार के सदस्यों को रास्ते से हटाकर शादी करने का प्लान बनाया। साजिश के मुताबिक पलविंदर सिंह ने घटना से कुछ दिन पहले एक पुरानी मारुति कार खरीदी और पत्नी सरबजीत कौर के नाम पर इंश्योरेंस पॉलिसी ले रखी थी। 20 जून 2015 को पलविंदर सिंह ने अपनी कार गांव अपने गांव अटारी के नजदीक गंगनहर में जान-बूझकर गिरा दी थी। इस कार में उसकी पत्नी सबरजीत कौर, पुत्र जशनप्रीत सिंह (4), पुत्री गगनदीप कौर (6) और उसका सीरी (खेत में काम करने वाला) निर्मल सिंह था। पलविंदर ने हत्या को एक घटना को रूप देने के लिए पूरी साजिश रची थी।

गांव वालों और रिश्तेदारों को यह एक दुर्घटना ही लगी। हत्या का खुलासा उस समय हुआ, जब 27 जनवरी 2016 को आरोपी पलविंदर सिंह ने अपनी प्रेमिका कर्मजीत कौर के साथ विवाह करवा अदालत से प्रोटेक्शन लेने के लिए पिटीशन डाल दी। दोनों की शादी के बाद पत्नी के परिजनों और पुलिस को परविंदर पर शक हुआ। इसके बाद पुलिस ने परविंदर और उसकी पत्नी को हिरासत में लिया। कड़ी पूछताछ में उसने सारा जुर्म कबूल लिया तो आगे कोर्ट में चालान पेश किया गया।

गुरुवार को डिस्ट्रिक्ट एंड सेशन अदालत ने सरकारी वकील और शिकायतकर्ता पक्ष के वकीलों की दलिलों से सहमत होते हुए इस केस को रियर ऑफ रिअरेस्ट बताते हुए आरोपी पलविंदर सिंह को फांसी की सजा और कर्मजीत कौर को उम्रकैद की सजा सुनाए जाने का ऐलान किया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें