पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बढ़ता कोरोना:9400 पार पॉजिटिव मरीज; 6 दिनों में 50 लोगों की जान गई, जिले में 2553 एक्टिव केस

फाजिल्काएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शिवालिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल में लोगों को वैक्सीन लगाई गई। - Dainik Bhaskar
शिवालिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल में लोगों को वैक्सीन लगाई गई।

फाजिल्का जिले में कोरोना का खतरा बढ़ते जा रहा है। वीरवार को एक बार फिर से कोरोना विस्फोट हुआ है। 24 घंटों में अब तक के सर्वाधिक 373 नए केस हैं। पिछले 6 दिन में 50 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं, वीरवार को 9 लोगों की मौत हो गई। इनमें 6 पुरुष व तीन महिलाएं हैं। जिले में 187 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, अब तक जिले में 9492 संक्रमित सामने आए हैं, जबकि उनमें से 6752 संक्रमित स्वस्थ हो चुके हैं। वीरवार को 238 संक्रमित मरीज ठीक भी हुए, जबकि अभी भी 2553 लोग संक्रमित हैं।

उधर, सिविल सर्जन डॉ. हरजिंदर सिंह ने लोगों को कहा कि है कि वह यातायात पाबंदियों के मद्देनजर सफर से तो गुरेज करने लगे हैं पर देखा है कि अकसर लोग प्रातःकाल शाम घरों के बाहर आसपास के लोगों के साथ जुड़कर बैठ जाते हैं। इस तरह का व्यवहार भी कोविड को न्योता देता है। घर के बाहर जिस जगह पर आप बैठ रहे हैं आप नहीं जानते उस जगह थोड़ी देर पहले जो बैठा था वह कौन था और क्या वह कोविड से प्रभावित था या नहीं। समय के हालातों में आपसी मेलजोल बिल्कुल बंद किया जाए। फोन काल और वीडियो काल से मित्रों, रिश्तेदारों और संबंधियों के संपर्क रखें। कोरोना गाइडलाइंस का पूरी तरह से पालन करें।

https://pass.pais.net.in पर बनवाएं ई-पास
जिला मजिस्ट्रेट अरविंद पाल सिंह संधू ने जिलावासियों को कोविड के बढ़ते खतरे के मद्देनजर अपील की है कि घरों से बाहर न निकलें। सरकार के आदेशों अनुसार जिन कार्यों के लिए मंजूरी दी गई है उसी काम के उद्देश्य के लिए पैदल और साइकिल पर यातायात को छूट है जबकि वाहन चालकों के मामलों में वैलिड पहचान पत्र प्रयोग किया जा सकता है। पहचान पत्र न होने पर वाहन पर ई-पास जरूरी तौर पर डिस्पले होना चाहिए जो कि वेबसाइट (https://pass.pais.net.in) पर अग्रणी तौर बनाया जाए। नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन एक्ट -2005 के अंतर्गत कार्यवाही की जाएगी।

सांस लेने में दिक्कत होने पर तुरंत अस्पताल में हों एडमिट
उधर, डॉ. अमित गुगलानी ने होम आइसोलेट लोगों को डाक्टर की बताई दवाइयां नियमित लेते रहने और अन्य हर 6 घंटे बाद बुखार और अॉक्सीजन स्तर और पल्स चेक करने की सलाह दी है। कहा पल्स रेट 120 से बढ़े या ऑक्सीजन स्तर 94 से कम हो या बुखार 101 डिग्री हो जाए या ब्लड शूगर 200 से अधिक या 70 से घट जाए, ब्लड प्रेशर 130 /90 से अधिक या 100 /70 से कम, सांस लेने में तकलीफ, छाती में भारीपन, होंठ नीले पड़ जाएं या किसी भी प्रकार की बेचैनी के लक्षण दिखाई दें तो मरीज को उपरोक्त नंबरों पर काल कर अस्पताल में भर्ती होने बारे तुरंत फैसला करना चाहिए। अच्छी खुराक खाने, तरल पदार्थ ज्यादा लें, रचनात्मक सोच रखें, मास्क डाल कर रखें।

राहत...कच्चा माल बेचने वाले खोल सकेंगे दुकानें
जिला मजिस्ट्रेट अरविन्द पाल सिंह संधू ने नए आदेश जारी किए हैं। अब वे दुकानें और अदारे जो औद्योगिक सामग्री (कच्चे माल समेत) बेचते हैं। सामान के अयात-निर्यात के साथ संबंधित गतिविधियों में शामिल दुकानें व अदारे सोमवार से शुक्रवार शाम 5 बजे तक खुल सकते हैं। पर साप्ताहिक लॉकडाउन दौरान शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार प्रातःकाल 5 बजे तक बंद ही रहेंगे। मछली पालन के साथ संबंधित गतिविधियों, मछली मीट और इसके उत्पादों समेत मछली पालन की सप्लाई को भी जरूरी वस्तुओं की श्रेणी में शामिल करते जरूरी वस्तुओं की श्रेणी में शामिल किया गया है।

कोविड में जरूरतमंद बच्चों की संभाल को नंबर जारी
जिला बाल सुरक्षा अफसर ऋतु बाला ने बताया कि किसी बच्चे के माता-पिता कोरोना का शिकार हो जाएं या बेवक्त मौत हो जाए तो पीछे रह गए छोटे बच्चों की उनका दफ्तर संभाल करता है। बच्चों संबंधी किसी भी किस्म की सहायता के लिए उनके दफ्तर के संपर्क नंबर 01638-261098 और या 78889-23922, 81467-39966, 81467-18897, 99880-06006 पर कॉल करें।

खबरें और भी हैं...