पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किलकारियां:लोहड़ी से एक दिन पहले फाजिल्का के छह घरों में गूंजीं किलकारियां

फाजिल्का11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2 घरों में आई लक्ष्मी, 4 घरों में कुलदीपक से हुई रोशनी, लोहड़ी से पूर्व जन्मे बच्चों के माता पिता बोले-इस दिन को कभी नहीं भूलेंगे

लोहड़ी की पूर्व संध्या पर कइयों के घर लक्ष्मी आई तो कई घरों में कुलदीपक ने रोशनी की। सोमवार को लोहड़ी के दिन सिविल अस्पताल में 2 महिलाओं ने 2 बेटों को जन्म दिया जबकि दो निजी अस्पतालों में एक-एक कुलदीपक ने जन्म लिया। लोहड़ी से एक दिन पहले दैनिक भास्कर की ओर से शहर के सरकारी अस्पताल, सचदेवा व चुघ अस्पताल में पैदा हुए नवजातों की जानकारी एकत्र की। लोहड़ी की पूर्व संध्या पर सरकारी अस्पताल में 4 बच्चे पैदा हुए जबकि बाकी दो अस्पतालों में भी एक-एक बच्चे हुए। इनमें से 4 लड़कों व 2 लड़कियों ने जन्म लिया। नवजन्मे बच्चों के अभिभावक इन्हें काफी शुभ मान रहे हैं। सभी ने लोहड़ी वाले दिन वाहेगुरु द्वारा दी हुई दात को एक अच्छा उपहार बताया।

जिनके घर लड़की ने जन्म लिया व उसे लक्ष्मी का अवतार मान रहे हैं। वहीं जिनके घरों में लड़के पैदा हुए हैं उन अभिभावकों का कहना है कि उनके घर कुलदीपक आया है। अभिभावकों के अनुसार लोहड़ी वाले दिन पैदा हुए बच्चे काफी ख्याति प्राप्त करते हैं। उनका मानना है कि इस दिन जन्मे बच्चों पर मां लक्ष्मी की अपार कृपा रहती है। लोहड़ी की पूर्व संध्या पर सिविल अस्पताल में कुल 4 घरों में किलकारियां गूंजी हैं, जिनमें 2 लड़कियां व 2 लड़कों ने जन्म लिया है। सिविल अस्पताल में मनजीत कौर वासी मंडी हजूर सिंह के घर लक्ष्मी, निशा रानी वासी ओड़ांवाली बस्ती के घर कुलदीपक, सीमा रानी पत्नी सुरिंदर पाल वासी मौजम के घर कुलदीपक व कौशल्या बाई पत्नी लछमण सिंह वासी ढाणी रेशम सिंह के घर बेटी ने जन्म लिया। वहीं सचदेवा अस्पताल में नीरज कुक्कड़ वायल सिटी विजय कॉलोनी फाजिल्का के घर कुलदीपक ने जन्म लिया। चुघ अस्पताल फाजिल्का में जीनत गुंबर वासी जलालाबाद के घर कुलदीपक ने जन्म लिया।

फाजिल्का निवासी नीरज कुक्कड़ ने बताया कि उनके घर लोहड़ी वाले दिन बेटा होना बहुत ही बड़ा शगुन है। जिसको लेकर बार-बार देशभर में मनाए जाने वाले लोहड़ी के दिन जहां खुशी का इजहार करेगा, वहीं अपने बेटे की लोहड़ी के दिन हर बार जन्मदिन मनाकर खुशी मनाएंगे। नीरज ने बताया कि वह बेटे को प्यार दुलार देने के साथ बेटे को पढ़ा-लिखा कर अच्छा इंसान बनाएगा। जलालाबाद निवासी जीनत ने बताया कि वर्ष 2021 में आने वाली लोहड़ी उनके लिए बहुत ही खास है क्योंकि इस लोहड़ी के दौरान उनके घर में एक बेटा पैदा हुआ है, जिसको लेकर कभी भी लोहड़ी के पर्व को भूला नहीं पाएंगे, हर बार अपने बेटे का जन्मदिन मनाते हुए दूसरों के साथ ही अपनी खुशी को सांझा करेंगी। वहीं बेटियों को पढ़ाने के साथ बेटे को भी अच्छे संस्कार बच्चियों को मान-सम्मान देकर बेटे को बेटियों के साथ बराबर स्थान देगीं। डॉ. अर्पित गुप्ता ने बताया कि जच्चा व बच्चा दोनों ही स्वस्थ है।

फाजिल्का के सिविल अस्पताल में मनजीत कौर, निशा रानी, सीमा रानी व कौशल्या बाई ने बताया कि वैसे तो हर त्योहार पर लोग खुशी का इजहार करते हैं, लेकिन लोहड़ी के दिन उनके घर पैदा हुआ बेटे व बेटियां उनके लिए बहुत ही सौभाग्य भरा दिन है उन्होंने बेटे को वाहेगुरु की सौगात बताया। इस दौरान सभी को अपने बेटे व बेटियों की बेहद खुशी हो रही थी, जिसने लोहड़ी वाले दिन वाहेगुरु द्वारा दी हुई दात को एक अच्छा उपहार बताया। उन्होंने बताया कि हमें बेटे या बेटी में फर्क को दूर करते हुए बेटों की भांति बेटी की भी लोहड़ी बांटनी चाहिए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser