न्याय विभाग में फर्जी नौकरियों के नाम पर धोखाधड़ी:डाक के माध्यम से भेजे जाते नियुक्त पत्र, जमानत के रूप में 10,825 रुपए की मांग

फाजिल्का2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फर्जी नियुक्ति पत्र दिखाता अमनदीप। - Dainik Bhaskar
फर्जी नियुक्ति पत्र दिखाता अमनदीप।

मनिस्टरी ऑफ लॉ एंड जस्ट्सि, भारत सरकार, डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस चंडीगढ़ द्वारा जारी इस पत्र में सेवादार व क्लर्क के पदों के लिए उम्मीदवार का चयन होने संबंधी नियुक्ति पत्र रजिस्टर्ड डाक के माध्यम से घरों में भेजे जाते हैं। ऐसा ही एक पत्र नामदेव नगर के वासी अमनदीप सिंह को मिला।

इसमें बकायदा पे स्केल दर्ज है। पत्र पर भारत सरकार का निशान व कानून का चिन्ह बना हुआ है। नियुक्ति पत्र के साथ जमानत राशि देने के लिए एक पत्र शामिल है, जिसमें 12 घंटों के अंदर 10,825 रुपए जमा करवाने की हिदायत की गई है।

जमानत राशि के लिए खाता नंबर प्राप्त करने के लिए जब 9639770973 पर संपर्क किया तो संबंधित नियुक्ति ने यूनियन बैंक के खाता नं. 49520201092425 जो हर प्रसाद के नाम पर है, मेंं 10,825 रुपए जमा करवाने के लिए कहा है। अमनदीप सिंह ने बताया कि असल में उसने न्याय विभाग में नौकरी के लिए अप्लाई किया था और बकायादा फाजिल्का में इंटरव्यू भी दी थी।

उसने संदेह जाहिर किया कि इस ऑनलाइन सूची में उसका नाम, पता व फोन नंबर उठाकर यह फर्जी नियुक्ति पत्र भेजा जाता है ताकि प्राप्त करने वाले को इस तरह लगे कि उसके द्वारा दी इंटरव्यू के अनुसार ही नौकरी मिली है। उन्होंने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि इस फर्जीवाड़े के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

खबरें और भी हैं...