पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों का चक्का जाम:जिले में किसानों ने 12 जगह हाईवे व स्टेट हाईवे किया जाम

फाजिल्काएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जलालाबाद में मुख्य मार्ग पर चक्का जाम के दौरान केंद्र खिलाफ रोष धरने पर बैठे किसान। - Dainik Bhaskar
जलालाबाद में मुख्य मार्ग पर चक्का जाम के दौरान केंद्र खिलाफ रोष धरने पर बैठे किसान।
  • यमुनानगर, माता चिंतपूर्णी, जालंधर, चंडीगढ़, श्रीगंगानगर, सिरसा और हनुमानगढ़ आदि रूट की बसें बंद रहीं

किसान जत्थेबंदियों की चक्का जाम की काल का भरपूर प्रभाव फाजिल्का में में भी देखने को मिला। फाजिल्का में किसान जत्थेबंदियों ने विभिन्न सड़कों पर दोपहर 12 से 3 बजे तक फाजिल्का-अबोहर रोड पर स्थित गांव रामपुरा, फाजिल्का-फिरोजपुर रोड पर स्थित गांव लालोवाली, थेह कलंदर टोल प्लाजा, लाधूका चौक, फाजिल्का मलोट रोड, अरनीवाला, अबोहर गंगानगर रोड, शहीद ऊधम सिंह चौक जलालाबाद, जलालाबाद मुक्तसर रोड, अबोहर में अबोहर-गंगानगर मार्ग, सीतो रोड व अबोहर बाइपास पर किसानों ने चक्का जाम कर मोदी सरकार विरुद्ध नारेबाजी की।

जिसके चलते पंजाब रोडवेज व पनबस की बसों की भी आवाजाही दोपहर 12 से 3 बजे तक बंद रही। पंजाब सब डिपो के इंचार्ज पवन कुमार ने बताया कि फाजिल्का से चलकर फिरोजपुर, मलोट, अबोहर के अलावा लंबे रूट यानी यमुनानगर, माता चिंतपूर्णी, जालंधर, चंडीगढ़, श्रीगंगानगर, सिरसा और हनुमानगढ़ आदि रूट की बसें भी बंद रही जबकि धरने वाले मार्गों पर जाने वाली मिनी बसों का भी 3 घंटे चक्का जाम रहा। इससे बसों में सफर करने वाले यात्री, कॉलेजों व कार्यालयों में जाने वाले लोगों को खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

बसें न चलने से कुछ यात्रियों को 3 घंटों तक बस स्टैंड पर ही इंतजार करना पड़ा। बस स्टैंड पर मौजूद फाजिल्का निवासी बलविंदर सिंह ने बताया कि वह शनिवार को परिवार के साथ फाजिल्का आया हुआ था तथा उसकी पत्नी ने अबोहर जाना था पर बस स्टैंड आए तो पता चला कि बसों की हड़ताल है।

कंडक्टर व यात्री में तू-तड़ाक
दोपहर 12 बजे बस स्टैंड पर कंडक्टर व यात्री में तू-तड़ाक शुरू हो गई। कंडक्टर बसों के दरवाजे बंदकर रहा था कि इस दौरान एक दंपति बस का दरवाजा खोलकर प्रवेश कर गया। जिसके बाद कंडक्टर ने उसे कहा कि भाई साहिब आज बस 3 घंटे बंद हैं। इसलिए वह बाहर इंतजार करें तो यात्री ने कंडक्टर को गाली निकाली जिसके चलते उनमें झगड़ा बढ़ गया व बात हाथापाई तक पहुंच गई। बात बढ़ती देख कर्मचारियों ने पुलिस को फोन किया जिसके बाद पुलिस उक्त युवक को पकड़ कर थाना सिटी ले गई जहां पर उक्त मामले का पटाक्षेप हो गया।

एंबुलेंसों को देते रहे रास्ता
जहां एक ओर किसानों ने आवाजाही के लिए 3 घंटे तक पूर्ण तौर पर चक्का जाम रखा वहीं मानवता के आधार पर आर्मी, एंबुलेंस व अन्य एमरजेंसी सुविधाओं के लिए छूट दी तथा जब कभी भी एंबुलेंस या कोई एमरजेंसी वाहन उक्त मार्ग से निकले तो किसानों ने कुछ मिनटों में उनके लिए रास्ता खाली कर दिया। किसान संगठनों का कहना है कि उनका लक्ष्य केवल काले कानूनों को रद्द करवाना है आम जनता को असुविधा पहुंचाना नहीं है।

जाम के कारण ट्रक चालकों ने सड़क किनारे बनाया खाना
श्रीगंगानगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर किए गए चक्का जाम में ट्रकों सहित अन्य वाहनों की दूर-दूर तक लंबी कतारें लग गई। जब ट्रक चालकों को पता चला कि 3 बजे तक किसानों ने उन्हें नहीं गुजरने देना है तो ट्रक चालकों ने सड़क किनारे ही गैस जलाकर खाना बनाया और ट्रक में बैठकर ही खाना खाया। उनका कहना था सफर लंबा है आगे जाकर पता नहीं टाइम लगे यहा न इस लिए अभी तैयार कर लिया। इसके अलावा जाम में फंसा एक ट्रैक्टर-ट्रॉली चालक रोड पर ही गहरी नींद सो गया।

चक्का जाम कर किसानों ने केंद्र सरकार के खिलाफ की नारेबाजी
किसान जत्थेबंदियों की चक्का जाम की काल का भरपूर प्रभाव फाजिल्का में में भी देखने को मिला। फाजिल्का में किसान जत्थेबंदियों ने विभिन्न सड़कों पर दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक फाजिल्का-अबोहर रोड पर स्थित गांव रामपुरा, फाजिल्का-फिरोजपुर रोड पर स्थित गांव लालोवाली, थेह कलंदर टोल प्लाजा, लाधुका चौक, फाजिल्का मलोट रोड, अरनीवाला, अबोहर गंगानगर रोड, शहीद ऊधम सिंह चौक जलालाबाद के अलावा अन्य कई सड़कों पर किसानों ने चक्का जाम करके मोदी सरकार विरुद्ध नारेबाजी की गई और कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग की।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें