पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Bathinda
  • Fazilka
  • If The Agriculture Law Is Not Repealed, The BJP Leaders Will Be Surrounded By The Cells, Under The Firm Fronts, The Farmers Sit Outside The Reliance Pump

घेराव:कृषि कानून रद्द न हुआ तो भाजपा नेताओं की कोठियों का होगा घेराव, पक्के मोर्चों के तहत किसानों ने रिलायंस पंप के बाहर दिया धरना

निहाल सिंह वाला8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा पास किए कृषि कानून के खिलाफ किसानों द्वारा लगाए पक्के मोर्चों की कड़ी के तहत बुधवार को भी रिलायंस पंप के बाहर धरना लगाकर प्रदर्शन किया गया। धरने को संबोधित करते गुरमीत सिंह किशनपुरा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा किसानों को इस काले कानून के खिलाफ गुमराह करने के लिए दिल्ली में बैठकें बुलाई जा रही हैं।

जबकि किसानों की मांग है कि जब तक इस कानून को रद्द नहीं किया जाता तब तक उनका संघर्ष जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार द्वारा कोविड-19 महामारी के बीच इस बिल को पास कर दिया गया। जबकि पूरा देश इस समय करोना महामारी से जूझ रहा है।

ऐसे में संकट की घड़ी में लोगों को राहत देने की जगह केंद्र सरकार द्वारा किसानों पर जबरदस्ती यह कृषि कानून थोपा गया है। उन्होंने कहा कि अगर केंद्र सरकार अपने अड़ियल रवैया का त्याग नहीं करती तो किसानों द्वारा पक्के मोर्चों के साथ भाजपा नेताओं की कोठियों के बाहर भी पक्के मोर्चे लगाए जाएंगे। इस अवसर पर अमरजीत सेदोके, बूटा सिंह भागीके, गुरचरण सिंह रामा, गुरविंदर सिंह, जसकरण सिंह, कुलविंदर सिंह, बचन सिंह, लखबीर सिंह आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...