सीएम का दौरा:दो जगहों पर हुआ लाठीचार्ज, तीन ईटीटी बेरोजगारों के सिर पर आई चोट, दो प्रदर्शनकारी टावर पर चढ़े

फाजिल्काएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • फाजिल्का में नए बस स्टैंड व अस्पताल का मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने किया उद्घाटन, विरोध करने पहुंचे कर्मचारी

सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने फाजिल्का में 20.72 करोड़ रुपए की लागत से बने 100 बेड के अस्पताल और 5 करोड़ रुपए की लागत से बने नए शहीद उधम सिंह बस टर्मिनल का उद्घाटन किया। इससे पहले विधायक दविन्दर सिंह घुबाया और पूर्व सांसद शेर सिंह घुबाया ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए इलाके की मांगें उनके सामने रखीं। मुख्यमंत्री के फाजिल्का दौरे के दौरान ईटीटी टेट पास बेरोजगार अध्यापक यूनियन ने सीएम के बस स्टैंड टर्मिनल का उद्घाटन करने से पहले ही बस टर्मिनल के बाहर रास्ता जाम कर दिया। बेरोजगार अध्यापक बैरिकेट्स को तोड़ते हुए आगे बढ़े, जिस दौरान पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज के दौरान 3 अध्यापकों को सिर पर चोट लगी।

जबकि इस प्रदर्शन के दौरान 2 अध्यापक टर्मिनल के सामने बने एशिया से सबसे दूसरे बड़े टावर के उपर चढ़कर प्रदर्शन किया, जिन्हें लगभग 2 घंटे बाद नीचे उतारकर पुलिस ने हिरासत में ले लिया। जैसे ही सीएम बस टर्मिनल का उद्धाटन करने पहुंचे तो उनके काफिले के पीछे ठेका कर्मचारी संघर्ष मोर्चा के आसपास छिपे हुए कार्यकर्ता एकदम सड़कों पर आ गए। पुलिस ने उनपर लाठीचार्ज कर उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया। मुख्यमंत्री के काफिले के वापिस निकलते ही उक्त कर्मचारियों ने काले झंडे दिखाए। इस दौरान मुख्यमंत्री चन्नी ने जिले में मेडिकल काॅलेज खोलने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि सरकार का उद्देश्य है कि गरीब और मध्यमवर्गीय लोगों को भी स्वास्थ्य और शिक्षा जैसी बराबर की सहूलतें उपलब्ध करवाई जाए। इसलिए उन्होंने फाजिल्का में मेडिकल काॅलेज बनाने के साथ-साथ यहां के सरकारी काॅलेज में पोस्ट ग्रैजुएट स्तर के नए रोजगारनोमुखी पाठ्यक्रम शुरू करने का ऐलान भी किया।

खबरें और भी हैं...