हड़ताल:मांगों संबंधी कोई हल न होने पर धरने पर फिर लौटे एनएचएम कर्मचारी, हड़ताल से टीबी प्रोग्राम, जन्म-मौत प्रमाणपत्र, सैंपलिग के काम हो रहे प्रभावित

फाजिल्काएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हड़ताल के कारण टीबी प्रोग्राम, जन्म-मौत प्रमाणपत्र, सैंपलिग, रुटीन टीकाकरण आदि का काम प्रभावित हो रहा

नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) कर्मियों ने 29वें दिन भी पंजाब सरकार के विरुद्ध रोष जताते हुए धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रांतीय कमेटी के आह्वान पर सीएम चन्नी के घेराव करने के बाद मांगों संबंधी कोई हल न होने के चलते कर्मचारी एक बार फिर से वापस धरने पर लौट आए हैं। हड़ताल के कारण टीबी प्रोग्राम, जन्म-मौत प्रमाणपत्र, सैंपलिग, रुटीन टीकाकरण आदि का काम प्रभावित हो रहा है।

यूनियन नेता परमिदर कुमार ने कहा कि पंजाब सरकार के रेगुलाइजेशन एक्ट बिल के द्वारा सेहत विभाग अधीन एनएचएम में ठेके और आउटसोर्स कर्मचारियों को अनदेखा किया गया है। उनका यह रोष कर्मचारियों द्वारा रेगुलर होने तक जारी रहेगा। इस मौके रविन्द्र कुमार ने बताया कि सेहत विभाग पंजाब में एनएचएम के तहत काम कर रहे कर्मचारी पंजाब सरकार की हिदायतों अनुसार मुकम्मल भर्ती प्रक्रिया के द्वारा भर्ती हुए हैं। लेकिन इसके बावजूद उन्हें इसका सम्मान नहीं दिया जा रहा। इस मौके पंजाब सरकार से अपील की गई कि कर्मचारियों की रोजी रोटी की सुरक्षा के मद्देनजर इन कर्मचारियों को 2021 के अंतर्गत रेगुलर करके इन कर्मचारियों को बनता मान-सम्मान दिया जाए।

खबरें और भी हैं...