पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Bathinda
  • Fazilka
  • The Police, Who Went To Apprehend The Nominee In The Case Of Assault, Also Beat Up The Neighbors, Saying Were Putting The Disturbances In Action

आरोप:मारपीट के मामले में नामजद को पकड़ने गई पुलिस ने पड़ोसियों को भी पीटा, कहा- कार्रवाई में डाल रहे थे विघ्न

फाजिल्का13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
करनैल सिंह के घर की टूटी दीवार, आरोप है कि इसे पुलिस ने तोड़ा है।
  • आरोपी बलविंदर के परिवार ने किया पुलिस पर हमला, खुद फरार, आठ के खिलाफ केस दर्ज

मारपीट के मामले में नामजद आरोपी को गिरफ्तार करने गए पुलिस पर आधा दर्जन लोगों ने हमला कर दिया जिसमें पुलिस कर्मचारियों की वर्दियां फट गई। पुलिस ने इस संबंध में बलविंदर सिंह, करतार सिंह, सुखविंदर कौर, मिंदो बाई वासी लखेके उताड़ और 3-4 अज्ञात महिलाओं व पुरुषों पर मामला दर्ज कर लिया है।

इस दौरान आरोपी के पड़ोसियों ने पुलिस पर आरोप लगाए कि पुलिस ने बिना किसी कारण उनके घर की दीवार तोड़ दी और विरोध करने पर मारपीट की। जांच अधिकारी लखविंदर सिंह ने बताया कि बीती 27 अगस्त को सुनील सिंह वासी लक्खेके उताड़ ने बयान दर्ज करवाए थे कि वह अपने पिता अमर सिंह वासी चक्क पूनांवाली के साथ गांव लक्खेके उताड़ जा रहे थे तो उक्त मामले में नामजद बलविंदर सिंह के अलावा मक्खन सिंह, निर्मल सिंह, हरजिंदर सिंह, कुलदीप सिंह, जुगराज सिंह, गुरप्रीत सिंह, मलकीत सिंह, भूपिंदर सिंह, विकास कुमार, विशाल कुमार, सुमन सिंह ने उन पर अपनी कार से उनके बाइक को टक्कर मार दी जिससे वह जमीन पर गिर पड़े।

इसके बाद विशाल कुमार ने ललकारा मारा कि इनको 354 धारा का झूठा पर्चा दर्ज करवाने का मजा चखाते हैं। इसके बाद उक्त आरोपी उनको अपनी जीप में डालकर लाधूका मंडी ले गए जहां पर सुनील सिंह व उसके पिता अमर सिंह के शोर मचाने पर लोगों की भीड़ को देखकर उक्त आरोपी उनको छोड़कर फरार हो गए थे। थाना सदर पुलिस ने उक्त मामले में आरोपियों पर केस दर्ज किया था तथा लखविंदर सिंह उक्त मामले में नामजद आरोपी बलविंदर सिंह को गिरफ्तार करने गए थे।

15 सितंबर सुबह 6:30 बजे पुलिस बलविंदर सिंह को गिरफ्तार करने गई थी

जांच अधिकारी गुरिंदर सिंह ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि बलविंदर सिंह अपने घर पर छुपा हुआ है। जिस पर पुलिस ने 15 सितंबर को सुबह 6.30 बजे पुलिस टीम सहित उक्त आरोपी बलविंदर सिंह को गिरफ्तार करने के लिए उसके घर छापामारी की तो बलविंदर सिंह को गिरफ्तार करके ले जाने लगे तो बलविंदर सिंह की पत्नी सुखविंदर कौर, माता मिंदो बाई, पिता करतार सिंह उसके साथ झगड़ा करने लगे। इतने में आसपास के तीन व्यक्ति व महिलाएं भी मौके पर आ गए और उसके साथ हाथापाई करके बलविंदर सिंह को उनसे छुड़ाने लगे। इस पर बलविंदर सिंह भी उनके साथ खीचोंतान करने लगा और उक्त सभी आरोपी के साथ झगड़ा करने लग गए। इतने में सुखविंदर कौर ने उसकी वर्दी के दाएं कंधे का शोल्डर पकड़कर खींचा जिस पर उसके बटन का शोल्डर स्टार नीचे गिर गया। बाद में करतार सिंह ने उसकी पीछे से बाजू पकड़ ली और मिंदो बाई ने दस्ती डंडे से उसकी लात पर वार किया। जब अन्य पुलिस कर्मचारी उसे छुड़ाने के लिए आगे आए तो करतार सिंह व उसके साथ आए अज्ञात व्यक्ति व महिलाओं ने पीएचसी विक्टर मसीह, पीएचजी गुरबचन सिंह को पकड़कर उसकी पिटाई की।

पुलिस को उलझा देखकर आरोपी हुआ फरार
जांच अधिकारी गुरिंदर सिंह ने बताया कि पुलिस टीम को उलझा हुआ देखकर आरोपी बलविंदर सिंह उसे धक्का मारकर भाग गया। पुलिस ने उसे पकड़ने का प्रयास किया किंतु वह पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा। लोगों की भीड़ एकत्रित होते देख पुलिस टीम वहां से वापस आ गई। पुलिस ने आरोपी बलविंदर सिंह को छुड़वाने के लिए पुलिस टीम पर हमला करने व ड्यूटी में विघ्न डालने वाले आरोपी बलविंदर सिंह सहित उसकी पत्नी सुखविंदर कौर, माता मिंदो बाई, पिता करतार सिंह वासी लक्खेके उताड़ और 3-4 अज्ञात व्यक्तियों व महिलाओं पर मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी अभी बाकी है। वहीं दूसरी ओर जब पुलिस से पड़ोसी की दीवार तोड़ने संबंधी व मारपीट करने संबंधी बातचीत की तो पुलिस ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को नकार दिया है और आरोपी बलविंदर सिंह को पकड़ने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

पड़ोसियों ने पुलिस पर लगाए बिना किसी कारण मारपीट के आरोप
बलविंदर सिंह की पड़ोसी महिला राणो बाई ने बताया कि सुबह 6.30 बजे पुलिस आई जिसने बलविंदर सिंह की बजाय करनैल सिंह का दरवाजा खुला होने के कारण उनके घर में घुस आए। उस समय उनके पति भैंसों को चारा डाल रहे थे। पुलिस ने उनके घर घुसते ही उनकी दीवार तोड़ने लगे। जब उसके पति करनैल सिंह ने पुलिस को रोकने का प्रयास किया तो पुलिस उसे पीटती हुई घर के बाहर ले गई जिसको पीठ पर काफी चोटें आईं। पड़ोसियों का कहना है कि उनका बलविंदर सिंह के परिवार से कुछ लेना-देना नहीं है तथा उनका घर बलविंदर सिंह के घर से अलग है तथा उनका आपस में बोलचाल तक नहीं है। वह पुलिस को रोकते रहे कि उनकी दीवार न तोड़े लेकिन पुलिस ने उनकी एक न सुनी। वहीं दूसरी ओर इस संबंधी पुलिस कर्मचारी बलविंदर सिंह से बात की गई तो उनका कहना था कि राणो बाई द्वारा पुलिस पर लगाए आरोप झूठे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें