पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मारपीट:ग्रामीणों ने की डिपो होल्डर से मारपीट, दो अंगुलियां टूटी सिर पर लगी चोट, छुड़ाने आई मां व भाई को भी पीट दिया

फाजिल्का8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दोना नानका गांव में सरकारी राशन वितरण को लेकर हंगामा

फाजिल्का के नजदीकी गांव दोना नानका (महात्म नगर) में कुछ लोगों द्वारा एक डिपो होल्डर की बुरी तरह मारपीट की गई। इस मारपीट में डिपो होल्डर को गले में रस्सी डालकर पीटा मारपीट में उसकी दो अंगुलियां टूट गईं वहीं सिर पर भी गहरी चोट आई। इसके अलावा डिपो होल्डर की मां व भाई की भी बुरी तरह मारपीट की गई जोकि डिपो होल्डर को छुड़ाने आए थे।

बता दें कि डिपो होल्डर सरकार द्वारा भेजी गई नि:शुल्क गेहूं बांट रहा था कि कुछ लोग जबरदस्ती गेहूं ले जाने लगे तो डिपो होल्डर द्वारा उनको कहा गया कि आपके कार्ड काटे जा चुके हैं और वह उनको गेहूं नहीं दे सकता जिससे गुस्साए लोगों ने डिपो होल्डर की बुरी तरह मारपीट की जिसे उपचार के लिए फाजिल्का के सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जिसकी गंभीर हालत को देखते हुए फरीदकोट रेफर कर दिया गया।

फाजिल्का के सिविल अस्पताल में उपचाराधीन डिपो होल्डर लक्ष्मण सिंह वासी गांव दोना नानका(महात्म नगर) ने बताया कि उनको सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत नि:शुल्क भेजी जाने वाली गेहूं प्रदान की गई थी जोकि उसने कार्ड होल्डरों को 25 किलो प्रति सदस्य बांटनी थी जिसकी वह मशीन द्वारा पर्चियां काट रहा था कि करनैल सिंह, लेख सिंह, बलदेव सिंह, जोरा सिंह जिनका वर्ष 2017 में कार्ड कट चुका है, वह आकर धमकी देने लगे और कहने लगे कि वह उनको नि:शुल्क गेहूं दे क्योंकि उनके आधार कार्डों पर सरकार द्वारा नि:शुल्क गेहूं आई है।

जिस पर उसने कहा कि यह गेहूं उन कार्ड होल्डरों की आई है जिनके कार्ड चल रहे हैं तथा पर्चियां उनकी ही काटी जाएंगी जिसके चलते वह उसके साथ गाली-गालौज करने लग गए। लक्ष्मण सिंह ने बताया कि उक्त लोग उससे पहले भी रंजिश रखते थे तथा उसको अकेला देखकर वह उसके साथ गाली-गालौज करने लग गए।

जिन्होंने पहले उसके हाथ पर लाठी मारी जिससे उसकी दो अंगुलियों फ्रैक्चर हो गईं। इसके बाद उक्त आरोपी उसके गले में रस्सा डालकर घसीटने लगे तथा बड़ी मुश्किल से वह उनसे जान बचाकर अपने घर की तरफ भागा। शोर सुनकर जब उसका परिवार आगे आया तो आरोपियों ने उसकी मां खुशियां बाई व भाई राम सिंह पर हमला करके घायल कर दिया तथा उक्त आरोपी खुद को नकली चोटें मारकर सिविल अस्पताल में दाखिल हो गए।

पंचायती चुनाव के समय से रखते हैं रंजिश : लक्ष्मण

लक्ष्मण सिंह ने बताया कि उक्त आरोपी पंचायती चुनाव के समय से रंजिश रखते आ रहे हैं। जब वह ट्रैक्टर लेकर चारा काटने जाते थे तो उनका रास्ता रोक कर कहते थे यहां से गुजरने नहीं देना। इसके अलावा वे धमकियां देते थे कि लक्ष्मण सिंह को डिपो नहीं चलाने देना ।

लक्ष्मण सिंह ने मांग की कि आरोपियों करनैल सिंह, लेख सिंह, बलदेव सिंह, जोरा सिंह पर बनती कार्रवाई की जाए। वहीं इस संबंध में थाना सदर प्रभारी बलदेव सिंह का कहना था कि लक्ष्मण सिंह को फरीदकोट रेफर किया गया है आज ही उसके बयान कलमबद्ध कर लिए जाएंगे बयानों के आधार पर आरोपियों पर बनती कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...