पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मछली पालन:मछली पालन का धंधा शुरू करने वाली महिलाओं और एस/एसटी को मिलेगी 60 प्रतिशत की सब्सिडी

फाजिल्काएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाजिल्का में अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए डीसी। - Dainik Bhaskar
फाजिल्का में अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए डीसी।

डीसी ने जिले के किसानों को मछली पालन का धंधा अपनाने का न्योता देते कहा है कि सरकार की तरफ से 40 से 60 प्रतिशत तक की सब्सिडी मछली और झींगा पालन के लिए दी जा रही है। इस स्कीम का लाभ लेने के इच्छुक किसान मछली पालन विभाग के साथ राबता कर सकते हैं। फाजिल्का में यह धंधा बहुत लाभदायक है। खास कर जहां सेम कारण फसलों की काश्त नहीं हो सकती है।

डीसी की अध्यक्षता में मछली पालन को उत्साहित करने के लिए गठित जिलास्तरीय कमेटी की बैठक दौरान साल 2021 - 22 की जिले की कार्य योजना स्वीकृत की गई है। इस साल 52 हेक्टेयर में झींगा और 16 हेक्टेयर में रिवायती मछली पालन का लक्ष्य निश्चित किया गया है।

उन्होंने कहा कि रवायती मछली पालन के इच्छुक किसान अभी भी आवेदन दे कर सब्सिडी का लाभ ले सकते हैं। इस मौके डिप्टी डायरेक्टर मछली पालन दलबीर सिंह ने बताया कि रिवायती मछली पालन का एक हेक्टेयर का तालाब बनाने पर 7 लाख रुपए का कुल खर्च आता है और 4 लाख इनपुट खर्च किए आते हैं। जबकि झींगा के लिए तालाब बनाने का प्रति हेक्टेयर खर्च 8 लाख रुपए और सांभ संभाल का खर्च 6 लाख रुपए है।

इन कार्यों सहित अन्य कार्यों के लिए सरकार की तरफ से जनजल श्रेणी के लिए 40 प्रतिशत और एससीएसटी और महिलाओं को 60 प्रतिशत सब्सिडी दी जाती है। इसके अलावा मछली पालन की नई विधि आरएएस और बायोफ्लाक के लिए भी यह सब्सिडी उपलब्ध है। इसके अलावा मछली के मंडीकरण के लिए मोटरसाईकिल, थ्री व्हीलर और बिक्री केंद्र स्थापित करने के लिए भी सब्सिडी दी जा रही है। उन्होंने किसानों को इस स्कीम का अधिक से अधिक लाभ लेने की अपील की।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें