पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Bathinda
  • Firozpur
  • 3850 Rupees, Put In Someone's Account At The Store, Went Walking On Foot Saying 'bring Money From ATM', The Thug's Bike Also Turned Out To Be Stolen

ठगी का मामला:दुकान पर किसी के खाते में डलवाए 3850 रुपए, ‘एटीएम से पैसे लाता हूं’ कह पैदल चला गया, ठग की बाइक भी चोरी की निकली

मुक्तसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ठग ने दुकानदार को करवाए थे पैसे ट्रांसफर, दुकानदार बोला-मुझसे तो पैसे नकद लेकर गया था, कौन था मुझे नहीं पता

आजकल चोरों ने बाइक चोरी कर लोगों से ठगी करने का नया ही रास्ता अपना लिया है। बाइक चोर चोरी कर किसी दुकान पर जाता है और उक्त दुकान से किसी दूसरे के खाते में पैसे डलवा वहां चोरी का बाइक खड़ा करके उन्हें बोल जाता है कि मैं एटीएम से पैसे निकलवाकर लाता हूं लेकिन वापस नहीं आता। मुक्तसर में इस तरह का यह दूसरा मामला है। ऐसी ही पहली घटना मुक्तसर के कोटकपूरा रोड स्थित एक साइबर कैफे संचालक के साथ हुई थी।

ताजा मामले में वीरवार को बैंक रोड स्थित कटारिया टूर एंड ट्रैवल का काम करने वाले सन्नी कुमार से हुई। सन्नी कुमार ने बताया कि मेरी बैंक रोड पर दुकान है वहां एक व्यक्ति आया जिसने बोला कि मुझे पैसे गूगल पे करवाने हैं। इस पर हमने 3850 रुपए उसके बताए नंबर पर गूगल पे कर दिए। जब उससे पैसे मांगे तो वह बोला कि मेरे एटीएम से पैसे निकाल लो तो वह बोला कि मैं किसी एटीएम से निकलवाकर लाता हूं। वह अपना बाइक खड़ा कर चाबी मुझे दे गया।

काफी घंटे बीत जाने के बाद दुकान पर बाइक का असली मालिक दुकान पर पहुंचा। उसने बताया कि यह मोटरसाइकिल हमारा है और चोरी हुआ है। यह सुनकर दुकानदार के पैरों तलों से जमीन खिसक गई। उसे अपने साथ ठगी का पता चला। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बाइक को कब्जे में ले लिया और दुकान मालिक को कल सुबह थाने आने को कहा।

सन्नी कुमार ने बताया कि जो व्यक्ति उसकी दुकान से पैसे गूगल पे करवाकर गया था उसने आगे सिविल सर्जन कार्यालय में स्थित एक दुकानदार को पैसे गूगल पे करवाए थे। जब उक्त दुकानदार से संपर्क किया गया तो उसने कहा कि मुझे युवक ने पैसे गूगल पे करवाए थे और मुझसे वह नकद ले गया था। यह युवक कौन है मैं नहीं जानता।

10 दिन के बाद इस प्रकार की ठगी का दूसरा मामला आया सामने
करीब 10 दिन पहले मुक्तसर के कोटकपूरा रोड पर स्थित साइबर कैफे चलाने वाले परमिंदरपाल सिंह के साथ ऐसा ही हुआ था। उसने बताया था कि एक युवक दुकान पर सुबह आया जिसने कहा कि आप किसी के नंबर पर पैसे गूगल पे कर दो। उक्त युवक ने किसी को नंबर दिया। जब वह पैसे गूगल पे करने लगा तो उस नंबर पर गूगल पे नहीं चल रहा था तो उसने फोन पे पर 4500 रुपए की ट्रांजैक्शन कर दी। युवक ने कहा कि आप मेरा आधार कार्ड का भी प्रिंट निकाल दे।

युवक ने अपना अंगूठा लगाकर अपना आधार कार्ड निकलवाया, जिस पर युवक का नाम संदीप कुमार पुत्र राज कुमार वासी ऊधम सिंह नगर बठिंडा लिखा हुआ है। इसके बाद वह 4790 रुपए देने का कहकर एटीएम से पैसे निकालने चला गया और बाइक वहीं खड़ी कर गया। इसके बाद वह नहीं लौटा। बाद में वह बाइक चोरी की निकली थी। पता चला था कि शातिर ने वह बाइक सिविल अस्पताल के बाहर से चुराई थी जिसके मालिक ने चोरी के बारे में बताया था।

खबरें और भी हैं...