पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कांग्रेस का क्लीन स्वीप:आजादी के 74 साल बाद फिरोजपुर नगर कौंसिल की सभी 33 सीटों पर कांग्रेसियों का कब्जा

फिरोजपुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फिरोजपुर में सबसे ज्यादा 1407 वोटों से विजयी वार्ड नंबर 24 से कांग्रेस उम्मीदवार परमिंद्र सिंह हांडा खुली जीप में पर सवार होकर विक्ट्री चिन्ह बनाकर खुशी का इजहार करते हुए। - Dainik Bhaskar
फिरोजपुर में सबसे ज्यादा 1407 वोटों से विजयी वार्ड नंबर 24 से कांग्रेस उम्मीदवार परमिंद्र सिंह हांडा खुली जीप में पर सवार होकर विक्ट्री चिन्ह बनाकर खुशी का इजहार करते हुए।

नगर कौंसिल फिरोजपुर में एक नया इतिहास रचते हुए कांग्रेस ने आजादी के 74 साल बाद सभी 33 वार्डों में क्लीन स्वीप करते हुए कौंसिल की सत्ता हासिल की है। हालांकि इन 74 सालों में करीब 50 सालों से ज्यादा समय तक कांग्रेस पार्टी सत्तासीन रही है, मगर क्लीन स्वीप 33 में से सभी 33 सीट कांग्रेस को पहली बार हासिल हुई हैं। 14 फरवरी को हुए जिले की 3 नगर कौंसिलों व 2 नगर पंचायतों के चुनावों के बाद बुधवार को हुई मतगणना में तीनों नगर कौंसिलों फिरोजपुर, गुरुहरसहाए व तलवंडी में तो 1 नगर पंचायत ममदोट पर कांग्रेस ने अपना कब्जा किया।

वहीं नगर पंचायत मुदकी पर अकाली दल ने अपना जोर दिखाते हुए वहां की सत्ता पर अपना कब्जा जमाया। जीरा नगर कौंसिल में पहले ही कांग्रेस निर्विरोध सत्तासीन हो चुकी है कांग्रेस पार्टी ने नगर कौंसिल फिरोजपुर के सभी 33 वार्डों में, नगर कौंसिल जीरा के सभी 17 वार्डों में तो नगर कौंसिल गुरू हरसहाए के सभी 15 वार्डों में क्लीन स्वीप करते हुए जीत हासिल कर कौंसिल की सत्ता पर अपना कब्जा जमाया है। इसके अलावा नगर कौंसिल तलवंडी भाई में कांग्रेस 9, शिरोमणि अकाली दल 3 व आम आदमी पार्टी ने 1 सीट हासिल की है जिसके चलते कांग्रेस ने स्पष्ट बहुमत हासिल किया है।

नगर पंचायत ममदोट में कांग्रेस 9, शिरोमणि अकाली दल 2 व 2 आजाद उम्मीद्वारों ने जीत हासिल की है, मगर स्पष्ट बहुमत कांग्रेस को ही हासिल हुआ है। इसके अलावा नगर पंचायत मुदकी में कांग्रेस 5 व शिरोमणि अकाली दल ने 8 सीटें हासिल कर स्पष्ट बहुमत हासिल किया है।कांग्रेस पाटी ने वर्ष 1947 से लगातार 1997 तक 50 वर्ष कौंसिल पर अपना कब्जा जमाकर रखा है। इस दौरान 7 वर्ष तक 1985 से 1992 तक कौंसिल भंग रही तो वर्ष 1998 से 2000 के बीच 2 वर्ष के लिए अकाली दल का अध्यक्ष बना । इसके बाद फिर 7 वर्ष तक 2001 से 2008 तक कांग्रेसी अध्यक्ष बने। इसके बाद 2010 से अब तक भाजपा का कौंसिल का अध्यक्ष बनता रहा है।

33 वार्डों में सबसे कड़ी टक्कर में मात्र 30 वोटों से जीता कांग्रेसी उम्मीदवार राजिंद्र कुमार -वहीं वार्ड नंबर 33 से कांग्रेस पार्टी के उम्मीद्वार राजिंद्र कुमार ने वार्ड की कुल 2596 वोटों में से 743 वोटें हासिल की तो उनके प्रतिद्वंदी शिरोमणि अकाली दल के उम्मीद्वार उल्फत राए सहोता ने कड़ी टक्कर देते हुए 717 वोट हासिल किए । इस वार्ड में कौंसिल के सभी 33 वार्डों में से सबसे कड़ी टक्कर रही जिसमें कांग्रेस पार्टी के समर्थित उम्मीद्वार राजिंद्र कुमार ने शिरोमणि अकाली दल समर्थित उम्मीद्वार उल्फत राए सहोता को मात्र 30 वोटों से शिकस्त दी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें