पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धरना:16 नवंबर से विद्यार्थियों को बुलाया क्लास लगाने के लिए, टीचर्स दे रहे धरना, कोर्स कंप्लीट न होने की चिंता

फिरोजपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वेतन न मिलने से शहीद भगत सिंह टेक्निकल काॅलेज के 354 टीचिंग स्टॉफ व कर्मचारी तीन दिनाें से धरने पर बैठे
  • डॉयरेक्टर का तर्क...2001 से नहीं मिली कोई ग्रांट, अब तक विद्यार्थियों की फीस से दी जा रही थी सैलरी, अब उनकी संख्या भी दिनोंदिन घट रही

कोरोना महामारी के चलते जहां मार्च माह से बंद पड़े कॉलेजों को प्रदेश सरकार की ओर से 16 नवंबर को खोलने के आदेश जारी किए गए तो अब जिले के सबसे बड़े शहीद भगत सिंह स्टेट टेक्निकल कैंपस के स्टॉफ को तीन माह से वेतन न मिलने के चलते 354 कर्मचारी कैंपस के गेट पर धरना देकर बैठ गए हैं। कॉलेज खुलने की सूचना मिलने के बाद जो विद्यार्थी कैंपस में पहुंच गए हैं अब उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

विद्यार्थी असमंजस की स्थिति में हैं कि वह कॉलेज में रूकें या वापस घर जाएं क्योंकि कॉलेज प्रबंधन के पास स्टॉफ व कर्मचारियों को वेतन देने के लिए बजट नहीं जिसके चलते कई बार विभाग को व सरकार को लिखा जा चुका है मगर आला अधिकारियों के कानों तले जूं नहीं रेंग रही है। उधर जुलाई से अटका वेतन न मिलने के चलते टीचिंग स्टॉफ व कैंपस के कर्मचारी जल्द वेतन न दिए जाने की सूरत में अपने संघर्ष को ओर तेज करने की चेतावनी दे रहे हैं।

हर माह 1.70 करोड़ बनती है सैलरी

शहीद भगत सिंह स्टेट टेक्निकल कैंपस के गेट पर धरना देकर बैठे टीचिंग स्टॉफ ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान सभी टीचिंग स्टॉफ ने सरकार की गाइडलाइंस के अनुसार लगातार ऑनलाइन कक्षाएं लगाकर विद्यार्थियों को पढ़ाया है जोकि अब तक जारी रहा है। जुलाई माह तक कॉलेज प्रबंधन की ओर से सभी को वेतन दिया गया इसके बाद से टीचिंग स्टॉफ के साथ-साथ कॉलेज में कार्यरत अन्य कर्मचारियों का भी वेतन अटक गया। उन्होंने बताया कि कैंपस में 133 टीचिंग स्टॉफ है, 123 टेक्निकल व ऑफिस स्टॉफ है तो 98 सिक्योरिटी गार्ड, माली, स्वीपर, मेंटेनर व चपरासी हैं। इन सभी का प्रत्येक माह 1.70 करोड़ रुपए का वेतन बिल बनता है।

विद्यार्थी बोले...आठ माह बाद खुला कॉलेज, फिर भी पढ़ाई नहीं हो रही

संदीप मिश्रा, मैकेनिकल डिप्लोमा-कॉलेज खुलने की सूचना के बाद बुधवार को कॉलेज पहुंचे यहां आकर पता चला कि टीचिंग स्टॉफ को वेतन न मिलने के कारण उनकी ओर से गेट पर धरना लगाया गया है। संदीप ने कहा कि सरकार व कॉलेज प्रबंधन को चाहिए कि वह जल्द स्टॉफ व कर्मचारियों का वेतन जारी करें ताकि उनकी पढ़ाई जारी हो सके। सौरभ तोमर ने कहा कि वह भी कॉलेज प्रबंधन व सरकार के रवैये को देखकर बहुत हैरान है कि इतनी मुश्किल के बाद कॉलेज खोलने के आदेश जारी हुए हैं व अब सरकार की ओर से स्टॉफ का वेतन जारी न कर उनकी पढ़ाई को फिर से रोक दिया है

उच्चाधिकारियों को सूचित कर दिया गया है : डायरेक्टर

एसबीएस स्टेट टेक्निकल कैंपस के डायरेक्टर टीएस सिधु से बात की गई तो उन्होंने कि कैंपस को वर्ष 2001 से किसी तरह की कोई ग्रांट नहीं मिली हैं। उन्होंने कहा कि वह लगातार उच्चाधिकारियों के संपर्क में है व पत्राचार के माध्यम से उन्हें सूचित कर रहे हैं। वहीं उन्होंने बताया कि एससी, बीसी विद्यार्थियों की छात्रवृति का करीब 4 करोड़ रुपए सरकार से कैंपस को आना है जिस पर ब्रेक लगी हुई है जिस कारण कैंपस को आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें