कोविड-19 / लॉकडाउन 4 में पुलिस ने शहर व छावनी में 70 लोगों के काटे चालान, इनमें 60 प्रतिशत बिना मास्क वाले

In lockdown 4, police cut challans of 70 people in the city and cantonment, 60 percent of them without mask
X
In lockdown 4, police cut challans of 70 people in the city and cantonment, 60 percent of them without mask

  • प्रशासन की गाइडलाइंस के अनुसार बिना मास्क बाहर निकलने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने पर होगा जुर्माना

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

फिरोजपुर. (कपिल सेठी)
वैश्विक महामारी कोरोनावायरस से बचाव को लेकर प्रदेशभर में जारी लॉकडाउन 4 में सरकार की ओर से विभिन्न शर्तों पर बाजारों में दुकानें खोलने सहित अन्य कई प्रकार की छूटें दी गईं। इस बीच लोगों की ओर से जारी की गई गाइडलाइंस का उल्लंघन करना शुरू किया गया तो प्रदेश सरकार की ओर से सार्वजनिक स्थानों पर थूंकने वालाें व मास्क न पहनने वालों पर जुर्माने के निर्देश जारी किए गए।

इसके तहत फिरोजपुर शहर व छावनी में मंगलवार से उक्त नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों के चालान काटने शुरू किए गए जिसमें अब तक 4 दिनों में 70 लोगों के चालान काटे गए हैं जिसमें 60 प्रतिशत चालान मास्क न पहनने वालों के हैं। प्रदेश सरकार की ओर से लॉकडाउन 4 की घोषणा के बाद प्रत्येक व्यक्ति के लिए सार्वजनिक स्थान, गलियों, अस्पताल, कार्यालय, मार्केट में जाते समय व वाहन में सफर करते समय ट्रिपल लेयर मास्क के इस्तेमाल के निर्देश जारी किए। इसके साथ ही कहा गया कि घर में बने सूती कपड़े का तैयार किया गया मास्क जिसे साबुन या डिटर्जेंट से अच्छी तरह धोकर प्रयोग किया जा सकता है। वहीं अगर मास्क उपलब्ध नहीं हो तो रुमाल, दुपट्टा या परने का इस्तेमाल किया जा सकता है।

अगर कोई व्यक्ति अपने काम काज वाले स्थान या सार्वजनिक स्थान पर मास्क इस्तेमाल नहीं करता है तो उसको 200 रुपए, अगर कोई व्यक्ति थूंकता है तो 100 रुपए व घर में एकांतवास की उल्लंघना करने पर 500 रुपए जुर्माना होगा।

दो पहिया पर एक व कार में तीन लोगों को सवार होकर जाने की अनुमति

प्रदेश सरकार के जारी निर्देशों के तहत दो पहिया वाहनों पर एक और कार में सिर्फ तीन लोगों को सवार होकर जाने का आदेश है। यदि किसी ने इन आदेशों का पालन नहीं किया तो उसके चालान काटे जाएंगे। इसी के तहत शहर व छावनी में मंगलवार से शुक्रवार तक 70 लोगों के चालान किए गए जिसमें बिना मास्क, दोपहिया वाहन पर बिना हेल्मेट व अन्य चालान शामिल हैं।

सामान्य हालात के बाद डीसी ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग को अपनाने की अपील की

कर्फ्यू हटने के बाद हालात सामान्य होने पर डिप्टी कमिश्नर कुलवंत सिंह ने लोगों से सोशल डिस्टेसिंग, मास्क पहनने और साफ-सफाई का ध्यान रखने जैसे कुछ नियमों का अनुकरण करने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि यह कुछ ऐसे नियम हैं, जिनका पालन करके हम इस बीमारी को खुद और अपने परिवार से कोसों दूर रख सकते हैं। कर्फ्यू के बाद स्थिति की समीक्षा करते हुए डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि जिले में धीरे-धीरे हालात सामान्य होने लगे हैं लेकिन हमारी यह जिम्मेदारी है कि हम कोरोना वायरस के खिलाफ इस जंग में अपनी भूमिका निभाते रहें। इसके लिए हमें सरकार द्वारा बताए गए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा। उन्होंने बताया कि जिले में स्थिति सामान्य करने के लिए सरकार की तरफ से कई कदम उठाए गए हैं। सुबह 7 से शाम 6 बजे तक दुकानों को खुलने की अनुमति दी गई है ताकि आर्थिक गतिविधियां फिर से शुरू हो सकें।

स्कूल-कॉलेज व कोचिंग सेंटर बंद रहेंगे

सभी स्कूल, काॅलेज, प्रशिक्षण और कोचिंग सेंटर बंद रहेंगे, केवल ऑनलाइन शिक्षा नियमों के मुताबिक जारी रहेगी। सभी सिनेमा हाॅल, शॉपिंग माॅल, जिम, स्विमिंग पुल, बार, ऑडिटोरियम, असेंबली आदि स्थानों के खुलने पर पाबंदी होगी। कोई भी सोशल, पाॅलिटिक्ल, कल्चरल, धार्मिक या जलसा वाले प्रोग्राम करने पर पाबंदी होगी। इंटर स्टेट वहीकलों के आने-जाने पर परमिशन लेनी होगी।

लोगों को किया जा रहा जागरूक

ट्रैफिक एसएचओ परमिंदर कौर ने कहा कि जिले भर में प्रदेश सरकार की ओर से जारी गाइडलाइंस के अनुसार चालान काटे जा रहे हैं और लोगों को मास्क पहनकर घर से निकलने, सार्वजनिक स्थानों पर न थूकने और एकांतवास के नियमों का पालन करने के लिए जागरूक भी किया जा रहा है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना