विरोध प्रदर्शन:मिनिस्टीरियल कर्मियों ने डीसी पठानकोट का पुतला जलाया

फिरोजपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलम छोड़ हड़ताल के दौरान प्रदर्शन करते हुए मिनिस्टीरियल कर्मी। - Dainik Bhaskar
कलम छोड़ हड़ताल के दौरान प्रदर्शन करते हुए मिनिस्टीरियल कर्मी।
  • कर्मचारियों ने डीसी कार्यालय में निकाली जिला स्तरीय रैली

पंजाब राज्य मिनिस्टीरियल सर्विस यूनियन द्वारा राज्य सरकार के मुलाजिम विरोधी बर्ताव के खिलाफ शुरू किए गए संघर्ष के अंतर्गत आज कलम छोड़ हड़ताल के 8वें दिन पंजाब सरकार का पिट स्यापा किया गया और डीसी पठानकोट का पुतला जलाया गया। मिनिस्टीरियल सर्विस यूनियन के महा सचिव वरिन्दर ढोसीवाल की अध्यक्षता में विभिन्न विभागों के कर्मचारियों ने बड़ी संख्या में इकट्ठा होकर जिला स्तरीय रैली निकाली।

इस मौके पर यूनियन के संरक्षक कर्मजीत शर्मा ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि सरकार ने हर फ्रंट पर मुलाजिमों के साथ धोखा किया है। उन्होंने कहा कि पे कमीशन के नाम पर सरकार पिछले साढ़े 4 साल से मुलाजिमों को भ्रम में रखा है। इस मौके पर स्टेज सचिव काला सिंह बेदी ने मुलाजिमों को संबोधन करते कहा कि सरकार हर बार कर्मचारी यूनियनों के साथ मीटिंगों तो कर लेती है परंतु इस को जमीनी स्तर पर लागू करने में हमेशा ही फैल साबित हुई है, जिसके फलस्वरूप मुलाजिमों की ओर से साझी झंडे नीचे संघर्ष शुरु किया गया है।

इस रोष रैली दौरान सीपीएफ कर्मचारी यूनियन के जिला प्रधान सतनाम सिंह, जल सप्लाई विभाग के तलविन्द्र सिंह, पंजाब रोडवेज़ के गुरमीत सिंह, डीसी दफ्तर के पुष्पिन्द्र सिंह, गुरप्रीत सिंह और हरबंस सिंह ने भी संबोधित किया। रोष रैली उपरांत मुलाजिमों की तरफ से डीसी पठानकोट का पुतला भी फूंका गया।

खबरें और भी हैं...