पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

शर्मनाक:इलाज में लापरवाही बरतने पर मां की हो गई थी मौत, बेटे व केयरटेकर पर केस

मुक्तसर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीसी ने मजिस्ट्रेट को जांच के दिए थे आदेश, जांच में बेटा व केयर टेकर को ठहराया आरोपी
  • दो बेटे सरकारी नौकरी में, मां को किया था केयरटेकर के हवाले

गत दिनाें बुजुर्ग मां का परिवार की ओर से देखभाल न करने पर हुई माैत के मामले में नाेटिस लेते हुए डीसी द्वारा उपमंडल मजिस्ट्रेट से करवाई पड़ताल के आधार पर बुजुर्ग के छोटे बेटे बलविंदर सिंह व केयर टेकर राजेश कुमार दाबड़ा के खिलाफ थाना सिटी मुक्तसर पुलिस ने धारा 304, 201, 506, 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया है। इस मामले का पंजाब राज महिला कमिशन द्वारा भी जिला प्रशासन को पड़ताल करने की हिदायत की गई थी।

बुजुर्ग महेन्द्र कौर की दुर्दशा सबसे पहले मंगा महंत ने देखी जब वह अपनी उगाही करने गया था। मंगा ने बताया कि जब वह उगाही कर रहा था ताे उसे झाड़ियाें में बने एक घुरने में पानी की आवाज सुनाई दी, जिसने सुनकर जब वह वहां गया तो घुरने में एक वृद्ध महिला पड़ी थी, जिसके सिर में कीड़े पड़े हुए थे और घुरने के सामने झाडिय़ां लगा हुई थी।

महंत ने बुजुर्ग संबंधी उसके केयर टेकर राजेश कुमार दाबड़ा से पूछा तो उसने धमकी दी कि अगर माता से कोई छेड़छाड़ की तो वह आत्महत्या कर लेगा, परंतु महंत व अन्य लोगों ने इस संबंधी थाना सिटी के एएसआई दिलबाग सिंह को सूचना दी तो बुजुर्ग को घुरने से बाहर निकालकर सिविल अस्पताल पहुंचाया गया।

केयरटेकर राजेश 2018 से कर रहा था देखभाल, 4 हजार महीना लेता था

मजिस्ट्रेट की जांच में पड़ोसियों का भी बयान कलमबद्ध किया गया पड़ाेसी शविंदर कौर, परमजीत सिंह, दविंदर सिंह बब्बू, बलराम जाखड़ नंबरदार व सालासर सोसायटी के प्रधान संजीव कुमार टिंकू व दीपांकुर अन्यों के बयान दर्ज किए। जिन्होंने कहा कि बुजुर्ग महेंद्र काैर का पुत्र बलविंदर सिंह एक्साइज विभाग में लगा हुआ है और वह राजेश दाबड़ा को चार हजार रुपए प्रति महीना संभाल के देता है। केयर टेकर राजेश कुमार दाबड़ा ने पड़ताल के दौरान कहा कि वह 2018 से महेन्द्र कौर की देखभाल करता आ रहा है।

राजेश बोला...मां की बीमारी की जानकारी बेटे को दी थी लेकिन नहीं दिया ध्यान
बलविंदर सिंह ने अपने बयान में कहा कि वह एक्साईज विभाग में जूनियर सहायक लगा हुआ है और मां को केयर टेकर राजेश के घर छोड़ा हुआ था। केयर टेकर ने कहा कि बुजुर्ग के सिर में बने जख्म के बारे में बेटे को बताया था लेकिन उन्होंने कोई बात नहीं सुनी।

बुजुर्ग की मौत के बाद पोस्टमार्टम न करवाने का नोटिस

एसडीएम द्वार गुप्त तौर पर की पड़ताल पर पाया गया कि माता महेन्द्र कौर का कोटली रोड स्थित मकान 31 दिसंबर 2012 को बलविंदर सिंह द्वारा तोती राम को बेच दिया गया था। इसके अतिरिक्त बलविंदर द्वारा माता का सही उपचार न करवाने व अस्पताल में से भगोड़ा होने व मौत के उपरांत उसका पोस्मार्टम न करवाने का भी सख्त नोटिस लिया गया और मां की मौत के लिए केयर टेकर राजेश दाबड़ा व माता के लड़के बलविंदर सिंह को कसूरवार मानते हुए इस मामले को मैनटीसेस एक्ट अधीन विचार करने की बजाए फौजधारी अधीन पुलिस कार्रवाई के लिए भेज दिया।

इस पड़ताल पर जिला अटॉर्नी नवदीप गिरधर द्वारा बलविंदर सिंह व राजेश कुमार दाबड़ा के खिलाफ जुर्म बनता होने के कारण मामला दर्ज करने की सिफारिश की, पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। दूसरा बेटा राजेन्द्र सिंह जोकि बिजली बोर्ड में अपर डिवीजन क्लर्क रिटायर हुआ है ने कहा कि वह 30 सालों से अपने माता-पिता व बहन-भाइयों से अलग है।

माता की देखभाल बलविंदर सिंह करता है। वह माता की अंतिम संस्कार में शामिल हुआ था, लेकिन उसकी लड़की पूनम ने कभी भी अपनी दादी महेन्द्र कौर को नहीं देखा और न ही कभी फोन पर बात की थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें