पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बहुत बड़ी समस्या:सफाई कर्मचारी कंपोस्ट पिट में नहीं, बाहर फेंक रहे कूड़ा, शहर में लगे गंदगी के अंबार

फिरोजपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • फिरोजपुर में 17 दिन से मांगों को लेकर सफाई कर्मचारी हड़ताल पर
  • नगर कौंसिल के 300 कर्मचारी 13 मई से हड़ताल पर चल रहे

नगर कौंसिल कर्मचारियों की ओर से म्यूनिसिपल मुलाजिम एक्शन कमेटी के आह्वान पर प्रदेशभर में अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी है। रविवार को भी नगर कौंसिल कर्मियों ने शहर में सफाई नहीं की गई। 13 मई को प्रदेशभर में शुरू हुई हड़ताल के चलते फिरोजपुर शहर में नगर कौंसिल कर्मियों की ओर से साफ-सफाई न किए जाने से शहर में कई जगह गंदगी के ढेर लगे हैं। शहर में कई जगहों पर बन डंप प्वाइंटों पर 17 दिन से कूड़ा न उठाए जाने के चलते बदबू आने लगी है। एक ओर जहां देशभर में कोरोना का प्रकोप जारी है वहीं शहर में कई जगहाें पर लगे गंदगी के ढेरों से लोगों को बीमारियों का खतरा बढ़ने लगा है। नगर कौंसिल के तहत काम करने वाले सफाई सेवक, सीवरमैन, माली, बेलदार, इलैक्ट्रिशियन, पंप आॅपरेटर, क्लर्क, ड्राइवर व फायर ब्रिगेड कर्मियों ने हड़ताल 13 मई से शुरू की है। इसके चलते कौंसिल के 300 से अधिक कर्मचारी हड़ताल चल रहे हैं। इनमें शहर के कामर्शियल व रिहायशी इलाके में साफ-सफाई का काम करने वाले 145 कर्मचारियों ने पूर्ण तौर पर काम बंद कर हड़ताल की हुई है।

इनमें 60 स्थायी कर्मचारी तो 85 आऊसोर्सिंग कर्मचारी शामिल है। वहीं इनमें 20 गारबेज कलेक्टर भी भाग ले रहे हैं। इसके अलावा नगर कौंसिल के तहत काम करने वाले 150 से ज्यादा अन्य कर्मचारी जिनमें कौंसिल के क्लर्क, सीवरमैन, इलैक्ट्रिशियन, पंप ऑपरेटर, कंप्यूटर ऑपरेटर, ड्राइवर व फायरब्रिगेड कर्मचारी हड़ताल पर चल रहे हैं। वहीं शहर के सिविल अस्पताल में भी सफाई व्यवस्था का यही हाल है। सिविल में गारबेज से खाद तैयार करने के लिए वेस्ट मैनेजमेंट के तहत कंपोस्ट पिट तो तैयार कर दी गई है मगर अभी तक कूड़ा खुले में फेंका जा रहा है।

सिविल अस्पताल में भी जगह-जगह कूड़े के ढेर बीमारियों को न्यौता दे रहे हैं। हैरानी की बात है कि जब अस्पताल में वेस्ट मैनेजमेंट के तहत कंपोस्ट पिट तैयार कर दी गई है तो कचरे को उसमें डालने से गुरेज क्यों किया जा रहा है जहां जिलेभर से लोग इलाज के लिए सिविल अस्पताल में पहुंचते हैं मगर वहां लगे कूड़े के ढेर लोगों को बीमारियों की सौगात दे रहे हैं।

खबरें और भी हैं...