रिजर्व में कम था खून:एसएमओ पर लगाया थैलेसीमिया पीड़ित को खून न देने का आरोप, सोसायटी सदस्यों ने वापस किए सर्टिफिकेट

मुक्तसर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसएमओ बोले-रिजर्व में कम था खून, रिप्लेसमेंट के बेस पर देने को कहा था

मुक्तसर के सिविल अस्तपाल में तैनात एसएमओ डॉ. सतीश गोयल द्वारा 28 अप्रैल को थैलेसीमिया पीड़ित बच्चे को खून देने से इनकार करने पर वीरवार को बाबा खेत्रपाल ब्लड सेवा सोसायटी व शिवानी मेमोरियल थैलेसीमिया सोसायटी नेे गुस्से में सिविल अस्पताल की ओर से रक्तदान के बदले दिए गए सर्टिफिकेट एसएमओ डॉ. सतीश गोयल को वापस कर दिए। बाबा खेत्रपाल ब्लड सेवा सोसायटी के प्रधान नरेश कोचा व शिवानी मेमोरियल थैलेसीमिया सोसायटी के प्रधान पवन कुमान ने आरोप लगाते कि 28 अप्रैल को थैलेसीमिया से पीड़ित बच्चे को 2 यूनिट खून की जरूरत थी।

वह खून के लिए मुक्तसर के सिविल अस्पताल में पहुंचे जहां 10 यूनिट खून होने के बावजूद एसएमओ ने देने से इन्कार कर दिया। उन्होंंने आरोप लगाते कहा कि ब्लड बैंक में 10 यूनिट खून उपलब्ध है, एसएमओ बोले नहीं देना। उन्होंने बताया कि हमारी सोसायटी रोजाना अपनेे डोनरों से 3 से 4 यूनिट रक्तदान करवाती है। लॉकडाउन में उनके द्वारा उस समय 50 यूनिट रक्तदान किया गया था, जिसके बदलेे पंजाब सरकार व सिविल अस्पताल ने उन्हें सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया था, जिन्हें आज वह एसएसमओ डॉ. सतीश गोयल को वापस कर रहे हैं। सोसायटी सदस्यों ने बताया कि इस मामले को लेकर शुक्रवार को सिविल सर्जन व डीसी को एक मांग पत्र भी सौंपा जाएगा।

रिजर्व में रक्त के यूनिट कम थे : एसएमओ

इस संबंध में एसएमओ डॉ. सतीश गोयल से बात की गई तो उन्होंने कहा कि हमारे पास रिजर्व में यूनिट कम थे और मुझे ब्लड बैंक वालों ने बताया है। हमने सोसायटी के सदस्यों को कहा था कि रिप्लेसमेंट के बेस पर खून ले लो परंतु सोसायटी के सदस्य इस बात के लिए नहीं माने।

-डॉ. सतीश गोयल एसएमओ

खबरें और भी हैं...