पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नशे का ओवरडोज से मौत:चाचा को कहकर गया युवक-बाहर जा रहा हूं, अनाज मंडी में लगाया नशे का इंजेक्शन

फिरोजपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्रामीण बोले-नशे की लत से परेशान पत्नी शादी के 6 माह के बाद ही चली गई थी मायके

ममदोट के नजदीकी गांव टाहली वाला में मंगलवार रात को नशे की ओवरडोज से मौत हो गई। युवक चाचा को कुछ काम का कहकर बाहर गया था लेकिन बाहर जाकर उसने नशे का इंजेक्शन लगाया जिससे उसकी मौत हो गई। परिजन उसे डॉक्टर के पास लेकर गए लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। मृतक की पहचान सुखचैन सिंह (25) पुत्र सूबा सिंह निवासी टाहली वाला के रूप में हुई है।

परिजन बोले-हमने कई बार समझाया यह लत छोड़ दो, कुछ दिन छोड़ने के बाद फिर नशा करने लगता था सुखचैन सिंह
मृतक सुखचैन सिंह के परिजनों ने बताया कि उनका लड़का लंबे समय से गलत संगत में पड़कर नशे की दलदल में फंस गया था। इसका पता चलते उन्होंने कई बार उसका नशा छुड़वाने की कोशिश भी की। उन्होंने बताया कि सुखचैन सिंह कुछ समय के लिए नशा छोड़ देता था लेकिन दोबारा करने लगता था।

सुखचैन मंगलवार देर शाम घर वालों को कोई काम है कह कर बाहर गया था। इस दौरान उसने नशे की इंजेक्शन लगा लिया जिससे नशे की ओवरडोज से मौत हो गई।

मृतक का लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व विवाह हुआ था। उसकी लगभग 8 माह की एक बेटी है। पता चला है कि शादी के बाद जब सुखचैन सिंह के नशा करने का पता जब उसकी पत्नी को चला तो उसने भी सुखचैन को बहुत समझाया परंतु वह चोरी-छिपे नशा करता रहा। इससे नाराज होकर उसकी पत्नी भी उसे शादी के छह माह बाद छोड़कर मायके चली गई थी। इसके बाद पत्नी ने मायके में ही बेटी को जन्म दिया।

ग्रामीण बोले- 6 साल से नशा कर रहा था युवक
गांव के पू‌र्व ब्लाक समित सदस्य जसविंदर सिंह, मौजूदा पंच सुखचैन सिंह, गुरसाहिब सिंह व नवदीप सिह ने कहा कि युवक पिछले लगभग 6 साल से नशे का आदी था। मृतक के पिता का कुछ साल पहले निधन हो गया था। मृत युवक अपने चाचा बलवीर सिंह के पास ही रहता था। युवक के नशे का आदी होने के कारण उसके पत्नी ने तलाक दे दिया था।

खबरें और भी हैं...