पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सेवा:60 बेडों वाले रैन बसेरे में रहने वालों को गर्म पानी रजाई-गद्दा और सुबह-शाम चाय की भी है व्यवस्था

मुक्तसर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जरूरतमंद लोगों के लिए वरदान साबित हो रहा रैन बसेरा, 20 से 25 लोग रोजाना ले रहे शरण

अमित अरोड़ा, बेसहारा लोगों को गर्मी और सर्दी में रात के समय सोने में आ रही परेशानी को देखते हुए मानवता फाउंडेशन ने नवंबर 2019 में शहर के गोनियाना रोड पर एक रैन बसेरा बनाया गया, जिसमें बेसहारा लोग सहारा ले रहे हैं, जहां उन्हें हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। यह प्रयास फाउंडेशन की ओर से इसलिए किया गया है ताकि सर्दी और गर्मी में बेसहारा लोगों को सोने के लिए छत व बिस्तर आदि मिल सके और बेसहारा लोग भी इसका लाभ ले सकें।

इस संबंध में मानवता फाउंडेशन के चेयरमैन डॉ. नरेश परुथी ने बताया कि फाउंडेशन की ओर से बनाए गए रैन बसेरे में करीब 60 बेड लगे हुए हैं जहां प्रतिदिन 15-20 लोग रात्रि को शरण लेते हैं, रैन बसेरा में बिस्तर भी उपलब्ध करवाया जाता है। बता दें कि अब मेला माघी के दौरान भी यहां काफी संख्या में लोग शरण लेते हैं। यहां रहने वाले लोगों को सुबह व शाम को चाय भी दी जाती है।

डॉ. परुथी ने बताया कि मानवता फाउंडेशन की ओर से लोगों को गर्मियों में गर्मी की और सर्दी में सर्दियों के लिए सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाती हैं जैसे कि सर्दियों में नहाने के लिए वहां रहने वाले लोगों को गीजर उपलब्ध करवाया गया है ताकि उन्हें नहाने के लिए गर्म पानी मिल सके। उन्होंने बताया कि इस रैन बसेरे को चलाने के लिए 25-30 हजार रुपए महीना खर्च आता है जोकि उनके द्वारा अदा किए जाते हैं।

2019 में मानवता फाउंडेशन ने गोनियाना रोड पर तैयार करवाया था रैन बसेरा

यहां भोले भाले लोगों को भी रखा जाता है और उनका उपचार भी करवाया जाता है। उन्होंने बताया कि अब तक 50-60 ऐसे लोगों का वह उपचार करवा चुके हैं। अब तक यहां करीब 1000 लोग शरण ले चुके हैं।

मानवता फाउंडेशन चला रहा पंघूडामानवता फाउंडेशन की ओर से अनाथ बेसहारा व अनगोले बच्चों के लिए मानवता बाल आश्रम चलाया जा रहा है, जहां पर उन्हें पढाई लिखाई, रहने, मनोरंजन व मेडिकल आदि का प्रबंध किया गया है। इस आश्रम में गत पांच सालों से मानवता पंघूडा सेवा चलाई जा रही है। जो परिवार बच्चों को संभालने में असमर्थ होता है वह उस नव जन्मे बच्चे को इस पंघूडे में रख जाता है, जिसे कि सेंट्रल अडाप्शन रिसोर्स अथॉरिटी के नियमों अनुसार जरुरतमंद परिवारों को गोद दिया जाता है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें