सामाजिक दायित्व:ट्रेन में अकेली सफर कर रही नाबालिगा को परिजनों से मिलवाने को, टिकट चेकिंग स्टॉफ ने आरपीएफ को सौंपा

फिरोजपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह उत्तर प्रदेश के अमरोहा की रहने वाली है

टिकट चेकिंग स्टाॅफ ने पश्चिम एक्सप्रेस में एक नाबालिगा को सुरक्षा देकर पानीपत स्टेशन पर आरपीएफ को सौंपा व अपना सामाजिक दायित्व निभाया। ट्रेन संख्या-12925 पश्चिम सुपर फास्ट एक्सप्रेस जोकि बांद्रा टर्मिनस से अमृतसर जा रही थी। इसमें 6 दिसंबर को टीटीआई राजीव रंजन जिनका मुख्यालय अमृतसर है, की ड्यूटी थी। जब ट्रेन नई दिल्ली से रवाना हुई तो उन्होंने टिकट चेकिंग के दौरान ट्रेन के वातानुकूलित कोच बी-2 में लगभग 16 वर्षीय नाबालिगा को यात्रा करते हुए पाया।

पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह उत्तर प्रदेश के अमरोहा की रहने वाली है। उसने अपने पिता का नाम व उनका मोबाइल नंबर भी बताया। उन्होंने अविलम्ब फोन पर नियंत्रण कक्ष के माध्यम से रेलवे सुरक्षा बल, पानीपत एवं चाइल्ड हेल्पलाइन को सूचित किया। ट्रेन के पानीपत पहुंचने के पश्चात उसे उसके माता-पिता से मिलाने हेतु रेलवे सुरक्षा बल पानीपत को सौंप दिया गया। वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक चेतन तनेजा ने इस सराहनीय कार्य के लिए टीटीआई राजीव रंजन की प्रशंसा की।

खबरें और भी हैं...