पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समर्थन:रिलायंस पंप पर वकील भाईचारे ने किसानों के धरने का किया समर्थन, माहमूजोईया टोल प्लाजा पर पंजाबी गायकों ने दिया साथ

जलालाबाद8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भाकियू (एकता उगराहां) का धरना जारी, पंजाबी कलाकारों ने धरनाकारियों का हौसला बढ़ाया

भारतीय किसान यूनियन (एकता उगराहा) ग्रुप जिला फाजिल्का द्वारा 30 किसान जत्थेबंदियों के आह्वान पर आज धरने के 14वें दिन जलालाबाद से फिरोजपुर रोड पर माहमूजोया टोल प्लाजा जलालाबाद में, रिलायंस पेट्रोल पंप, इजी-डे और जलालाबाद से फाजिल्का रोड पर गांव थेह कलंदर टोल प्लाजा का घेराव लगातार चल रहा है।

रिलायंस पंप पर जहां जलालाबाद के वकील भाईचारे ने किसानों के धरने का समर्थन किया तो वहीं माहमूजोईया टोल प्लाजा पर पंजाबी गायक जगसीर जीदा, कंवर गरेवाल,जगदीप रंधावा व हरपाल चीमा धरना कारियों का हौंसला बढ़ाया। इस दौरान कलाकारों ने इंकलाबी और किसान हित में गीत गाए और सभी में संघर्ष का ओर जोश भर दिया।

कंवर ग्रेवाल ने कहा कि केंद्र ने भले ही कृषि कानून पास कर दिया हो लेकिन अगर हम सभी मिलकर एक साथ इस फैसले के विरोध में संघर्ष करेंगे तो केंद्र को भी अपना फैसला वापस लेना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि राजनीतिक लोगों ने सिर्फ अपना नफा नुकसान देखना है लेकिन बात यहां किसानों के भविष्य की है तो खास कर पंजाब के प्रत्येक निवासी का फर्ज बनता है कि वे केंद्र के फैसला का विरोध करे। उन्होंने कहा कि हमारे संघर्ष का ही परिणाम है कि केंद्र सरकार किसानों से बातचीत के लिए लगातार प्रयास कर रही है। आज लंगर की सेवा गांव जमालगढ़ शिबियावाला के लोगों ने की।

इस धरने को संबोधित करते वक्ताओं ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा किसान, मजदूर और मुलाजिम विरोधी जो कानून बनाए गए हैं उनको तुरंत वापस लिया जाए। वक्ताओं ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा किसानों को दिल्ली बुलाया गया है और आज किसान संगठन मीटिंग के लिए दिल्ली जाएंगे। किसानों ने कहा कि यदि आज की मीटिंग में कोई हल नहीं निकलता तो संघर्ष को और तेज किया जाएगा।

किसान संगठनों के सांझे संघर्ष ने कारपोरेट घरानों और भाजपा गठजोड़ को अपने निशाने पर लिया हुआ है। इस कारण मोदी सरकार द्वारा मंत्रियों, एमपी और एमएलए और सारे कारकूनों को कालेे कृषि विरोधी कानूनों के हक में प्रचार करने के लिए आह्वान दिया है। इस दौरान जिला अध्यक्ष गुरविंदर सिंह मन्ने वाला, सतपाल सिंह भोडीपुर, पिपल सिंह घागा,

खबरें और भी हैं...