पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जीटीवी खालसा कॉलेज:कर्मचारियों को डेढ़ साल से नहीं मिला वेतन, सचिव पर लगाए धक्का मारने व धमकियां देने का आरोप

मलोट6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • स्टाफ बोला...कॉलेज कमेटी से तंग आकर किसी ने आत्महत्या की तो कमेटी सदस्य होंगे जिम्मेदार

मलोट में तकनीकी क्षेत्र की शैक्षिणक संस्था के प्रबंधों पर तीन दशकों से नई व पुरानी कमेटी के चल रहे विवाद में 150 के करीब मुलाजिम पिस रहे हैं जिन्हें करीब डेढ़ साल से वेतन नहीं मिली रही है। इसके अलावा कर्मचारियाें ने नई गवर्निंग कमेटी के सचिव पर कर्मचारियाें के साथ बुरा बर्ताव करने का आराेप लगाया है। इसी के तहत आज कॉलेज के स्टाफ सदस्यों के साथ सचिव के कथित गलत रवैये को लेकर विवाद हो गया जब महिला स्टाफ सदस्यों ने सचिव पर गलत शब्द बोलने का आरोप लगाया। इस संबंधी स्टाफ के दर्जनों सदस्यों द्वारा थाना सिटी पुलिस को दी शिकायत में कहा कि कॉलेज के सचिव द्वारा स्टाफ सदस्यों से अभद्र भाषा व गलत शब्दावली उपयोग कर धमकियां दी जाती हैं। इस अवसर पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए सीनियर अध्यापक जतिंदर मित्तल, डीआर पिपलजीत सिंह, लाइब्रेरी सहायक मनिंदरपाल कौर, हरजिंदर सिंह स्टाफ सदस्यों द्वारा सचिव पर पुरानी कमेटी के विरुद्ध जबरी फाइलें निकालने का आरोप लगाया।

सचिव सुदर्शन सिंह बोले...धक्का-मुक्की मैने नहीं की, कर्मचारियों ने ही मुझसे बदतमीजी की

सचिव सुदर्शन जग्गा का कहना है कि उन्होंने स्टाफ से गलत व्यवहार नहीं किया। स्टाफ सदस्यों में पिपलदीप, हरजिंदर सिंह, दिलबाग सिंह सहित कुछ ने उनके साथ धक्कामुक्की की जिसकी शिकायत वह पुलिस को कर रहे हैं। पुरानी कमेटी द्वारा उन्हें बैंक के कामकाज की पावर नहीं दी गई, जिस संबंधी वह अदालत में गए हैं। इसलिए जब उनके पास बैंक का अधिकार आ गया तो वह वेतन देंगे। कई कर्मचारी ऐसे हैं जो बिना काम वेतन लेते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपकी मेहनत व परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होगा। किसी विश्वसनीय व्यक्ति की सलाह और सहयोग से आपका आत्म बल और आत्मविश्वास और अधिक बढ़ेगा। तथा कोई शुभ समाचार मिलने से घर परिवार में खुशी ...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser