पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चेकिंग:दिल्ली से आ रहीं निजी कंपनी की बसों की सेल टैक्स विभाग के अधकिारियों ने की चेकिंग, बिना बिल भारी मात्रा में सामान बरामद

मलोट8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली से आ रही एक निजी कंपनी की बसों में बड़े स्तर पर व्यापारियों द्वारा लाए जा रहे सामान की चेकिंग के लिए सेल टैक्स विभाग के मोबाइल विंग की फ्लाइंग टीम ने छापेमारी कर व्यापारियों व दुकानदारों द्वारा बिना बिल लाया जा रहा सामान बरामद किया व बस को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

दिल्ली से चलकर सुबह करीब 5 बजे मलोट में व्यापारियों व दुकानदारों का सामान उतारकर आगे रवाना हो जाती है। दीवाली व दशहरा होने के मद्देनजर दिल्ली से बिना बिल भारी मात्रा में सामान लाया जा रहा है और सरकार को लाया जा रहा है, जिसके तहत कुछेक दुकानदारों द्वारा टैक्स चोरी की जा रही है। ऐसी कार्रवाईयों को रोकने के लिए और बिना टैक्स दिए सरकार को चूना लगाया जा रहा है।

टैक्स विभाग की इनफोर्समेंट टीम ने दिल्ली से अबोहर गंगानगर जाने वाली बस नं. आरजे 27 पीबी 2660 का अचानक चेकिंग करके भारी मात्रा में बिना बिल माल बरामद किया व बस को अपने अधिकार में ले लिया है। व्यापारी व दुकानदारों की कथित मिलीभगत से बस चालक मुक्तसर रोड पर चोरी छिपे सामान उतारकर ऑटो रिक्शा व चार पहिया वाहनों पर भरकर ले जा रहे थे कि अचानक टैक्स व्भिाग के मोबाइल विंग की फ्लाईंग टीम द्वारा छापेमारी करके सामान व बस अपने कब्जे ले ली।

इस संबंधी पत्रकारों से बातचीत करते मोबाइल विंग के फाजिल्का कार्यालय के सहायक कमिश्रर कर आबकारी अमरनाथ ने बताया कि उनकी अध्यक्षता में ईटीओ कुलदीप सिंह विभाग द्वारा आज की रूटीन कार्रवाई की है। उन्होंने कहा वाहन को कब्जे में लेने के बाद माल मालिकों की शिनाख्त की जाएगी, जिसके बाद असैसमेंट करके जुर्माना वसूल किया जा सके।

बेशक यह माल मलोट अबोहर के दुकानदारों व व्यापारियो का है। छापेमारी के पीछे मालिकों ने इस सामान से वक्ती तौर पर दावेदारी छोड़ दी जिस कारण अधिकारियों ने सामान सहित बस को कब्जे में ले लिया। वाहन को कब्जे में लेने संबंधी उन्होंने कहा कि जीएसटी के नए कानून के अनुसार वाहन को कब्जे में लेने के पीछे ही चालक या कंडक्टर के माध्यम बिना बिल माल के मालिक की शिनाख्त होती है।

खबरें और भी हैं...