पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनिश्चितकालीन धरना:रेगुलर करने की मांग को लेकर पनबस के 193 कर्मियों ने की हड़ताल, 48 बसें नहीं चलीं, सरकार को 6 लाख का नुकसान

मोगा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रेगलुर करने की मांग को पंजाब रोडवेज पनबस कर्मचारी सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। हड़ताल के चलते सोमवार को पनबस की 48 बसें डिपो में ही खड़ी रहीं। जबकि रेगुलर ड्राइवर व कंडक्टर 22 बसें लेकर अपने-अपने रूट पर गए। 77 ड्राइवर व 116 कच्चे कंडक्टर हड़ताल पर हैं। इससे सरकार को 6 लाख का नुकसान हुआ।

इन 48 पनबसों में हर रोज लगभग 2000 महिलाएं मुफ्त में सफर करती हैं।यूनियन के चेयरमैन लखबीर सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार कई साल से मांगों को लेकर गंभीर नहीं है। सरकार ने चुनाव से पहले वादा किया था कच्चे कर्मियों को पक्का किया जाएगा, लेकिन अब सरकार अपने वादे से मुकर रही है। उन्होंने बताया कि 7 सितंबर से पनबस कर्मी चंडीगढ़ में सीएम ऑफिस के बाहर अनिश्चितकालीन धरना लगाएंगे। यूनियन की मांग है कि कच्चे कर्मियों को रेगुलर किया जाए। साथ ही बिना परमिट के चल रही निजी बसों को बंद किया जाए। रोडवेज विभाग में खाली पदों को भरा जाए।

खबरें और भी हैं...