पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी:टूरिस्ट वीजा पर युवक को ऑस्ट्रेलिया भेजने के नाम पर 4.22 लाख रुपए ठगे

मोगा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचा तो पता चला कि नकली वीजा व टिकट दी गई

एक युवक को ऑस्ट्रेलिया भेजने के नाम पर उसके साथ चार लाख 22 हजार रुपए कि ठगी मारने के आरोप में पुलिस द्वारा जांच के उपरांत फर्जी महिला एजेंट, उसके दो बेटों, बेटी व दामाद के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। केस दर्ज होने के बाद पांचों आरोपी अपने-अपने घरों से फरार हो गए हैं। पुलिस द्वारा गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही।

मानव तस्करी सेल के इंचार्ज लखविंदर सिंह ने बताया कि कस्बा धर्मकोट के गांव कोर्ट मोहम्मद खां निवासी हरविंदर सिंह ने 16 दिसंबर 2019 को मोगा के एसएसपी को दी लिखित शिकायत में आरोप लगाया कि जिला लुधियाना के गांव फतेहपुर गुजरा में उसकी मासी रहती है। जहां उसका अक्सर आना-जाना था।

पेशे से पेंटर काम करता है। लेकिन उसने साल 2018 में अपनी मासी से विदेश जाने की बात कही तो उसकी मासी ने कहा कि उसकी पड़ोस में रहने वाला परिवार एजेंट का काम करता है और वह लोगों को विदेश भेजते हैं।

फर्जी महिला एजेंट, उसके दो बेटों, बेटी और दामाद के खिलाफ मामला दर्ज
विदेश भेजने संबंधी जानकारी मिलने के बाद उसकी मासी द्वारा पड़ोस में रहने वाली जसवीर कौर व उसके दो बेटों कुलवंत सिंह व नरेंद्र सिंह से मुलाकात करवाई।शिकायतकर्ता का कहना है कि उक्त लोगों से मुलाकात के बाद उन्होंने उसे विदेश भेजने के लिए साढ़े नौ लाख रुपए की मांग की थी।

उन्होंने आधे रुपए विदेश जाने से पहले और आधे रुपए विदेश जाने के बाद लेने की बात कही थी। इसके बाद उनकी अच्छी जान पहचान होने के चलते उक्त लोग अपनी बेटी पूजा व दामाद मनिंदरपाल के साथ उनके घर आने-जाने लगे। इसी बीच उसके द्वारा ऑस्ट्रेलिया टूरिस्ट विजा पर जाने के लिए इन लोगों को चार लाख 22 हजार रुपए दिए। रुपए लेने के बाद पहले तो वह विदेश भेजने के लिए टालमटोल करने लगे, बाद में उन्होंने कहा कि थाईलैंड में दो छोटे-छोटे टूर लगा लो जिससे पासपोर्ट पर विदेश जाने का ठप्पा लग जाएगा। इसके बाद वह थाईलैंड में साल 2019 में एक बार 7 दिन और दूसरी बात 9 दिन रहा था।

इसके बाद उसने एजेंट का काम करने वाले सभी लोगों को उसे ऑस्ट्रेलिया टूरिस्ट वीजा पर भेजने के लिए कहा तो उन लोगों ने उसे फर्जी वीजा और टिकट थमा दी। जब दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचा तो उसे पता चला कि उसे नकली वीजा और टिकट थमा दी गई है। बाद में उक्त लोगों से संपर्क करने पर कोई स्पष्ट उत्तर नहीं दिया गया। अपने साथ हुई ठगी के मामले में ढाई महीने पहले पुलिस को शिकायत दी थी।

एसएसपी द्वारा मामले की जांच मानव तस्करी सेल को सौंप दी गई थी। पुलिस द्वारा लंबी जांच के बाद मनिंदरपाल सिंह, उसकी पत्नी पूजा निवासी साहनेवाल जिला लुधियाना, मनिंदरपाल सिंह के साले कुलवंत सिंह, नरेंद्र सिंह, सास जसवीर कौर निवासी फतेहपुर गुजरां जिला लुधियाना के खिलाफ साजिश के तहत धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज किया गया है।

खबरें और भी हैं...