रामलीला की शुरुआत:माता-पिता की आज्ञा का पालन करने की प्रेरणा देता है भगवान राम का जीवन

मोगा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रामलीला की शुरुआत गणपति राखो मेरी लाज पूर्ण कीजे सब काज गणपति वंदना के साथ की गई

सीता स्वयंवर कला केंद्र की ओर से शहीदी पार्क में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम की गाथाओं पर आधारित चल रही रामलीला के चौथे दिन खेवट द्वारा भगवान राम, माता सीता व लक्ष्मण को गंगा पार करवाने का मंचन किया गया। रामलीला की चौथी नाइट में मुख्यातिथि के तौर पर पहुंचे नगर निगम के मेयर नितिका भल्ला ने स्टेज उद्धघाटन, डिप्टी मेयर ने दरबार उद्धघाटन, पार्षद साहिल अरोड़ा व पार्षद अरविंदर सिंह काहनपुरिया ने भगवान राम के दरबार मे ज्योति प्रज्वलित की। रामलीला की शुरुआत गणपति राखो मेरी लाज पूर्ण कीजे सब काज गणपति वंदना के साथ की गई।

रामलीला के मंच पर पात्रों द्वारा भगवान राम का पिता के बचन को पूरा करने के लिए राज्य को छोड़कर बनवास के लिए जाना, खेवट द्वारा भगवान राम, माता सीता व लक्ष्मण को नदी पार करवाना आदि का मंचन किया गया। चेयरमैन नवीन सिंगला अध्यक्ष देवप्रिय त्यागी द्वारा आए मेहमानों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया गया। इस अवसर पर दीपक भल्ला, गगन मितल, पंडित श्यामलाल शर्मा, पार्षद प्रवीण मक्कड़, पार्षद विजय खुराना, राज कमल कपूर, अश्वनी शर्मा आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...