पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कर्मियों में रोष:वेतन आयोग की खामियों को लेकर निकाला रोष मार्च, मिनिस्टीरियल कर्मियों की अपील-रिपोर्ट को संशोधित कर लागू करे पंजाब सरकार

मोगाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब स्टेट मिनिस्ट्रियल सर्विसेज यूनियन व संयुक्त मुलाजिम मंच द्वारा वेतन आयोग की कमियों को लेकर जिला प्रधान कुलदीप सिंह, महासचिव मेवा सिंह, जिला चेयरमैन हरमीत सिंह, प्रेस सचिव हरजीत जीरा, उप प्रधान मनदीप सिंह व गुरदीप सिंह रखड़ा की अगुवाई में बुधवार को शहर में जिला प्रबंधकीय कॉप्लेक्स से रोष मार्च निकाला गया।

उन्होंने कहा कि पंजाब की कांग्रेस सरकार द्वारा 70 सालों के अरसे में पहली बार वेतन आयोग जारी किया गया है जो कि मुलाजिम विरोधी है बाकी पहले 5 पे-कमिशन अन्य सरकारों द्वारा भी लागू किए गए थे जिनमें मुलाजिमों को वेतन का लाभ हुआ था।

इस सरकार का पहला वित्तमंत्री है जो मुलाजिम विरोधी साबित हुआ है क्योंकि वित्त मंत्री ने मुलाजिमों को फायदा करने की बजाय घाटे में रखने की कोशिश की है। जत्थेबंदी ने पंजाब सरकार को अपील की कि रिपोर्ट में संशोधन कर दोबारा से लागू किया जाए। बकाया डीए जारी किए जाएं, पुरानी पेंशन लागू की जाए, 15 जनवरी 2015 के बाद सिर्फ बुनियादी वेतन देने का नोटिफिकेशन रद्द किया जाए, मेडिकल भत्ते में बढ़ोतरी की जाए। जिला प्रधान कुलदीप सिंह व महासचिव मेवा सिंह ने बताया कि 8 व 9 जुलाई को कामकाज ठप किया जाएगा। इस दौरान खुश कीरत सिंह, बलबीर सिंह, सुनील गुप्ता, जसवीर सिंह, परमजीत सिंह शिक्षा विभाग, प्रवीण कुमार, सतनाम सिंह, राजदीप जैदका, हरजोत सिंह, अमनदीप सिंह, बहादुर सिंह, बलदेव सिंह, गुरबचन सिंह, जसविंदर सिंह, निर्मल सिंह, वरिंदर कुमार हाजिर थे।

खबरें और भी हैं...