प्रदेश सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन:मांगों को लेकर कच्चे पनबस कर्मी हड़ताल पर, नहीं चलीं 48 बसें

मोगाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते पनबस कर्मी। - Dainik Bhaskar
प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते पनबस कर्मी।
  • रेगुलर करने की मांग को लेकर कच्चे कर्मचारियों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

पंजाब रोडवेज, पनबस, पीआरटीसी कांट्रेक्ट वर्कर्ज यूनियन ने मांगों को लेकर आठवें दिन बस स्टैंड पर प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।पनबस कर्मियों की हड़ताल के कारण आठवें दिन भी पनबस की 48 बसें नहीं चली। सूबा सिंह, गुरप्रीत सिंह, सुखविंदर सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा ट्रांसपोर्ट विभाग के कच्चे मुलाजिमों व पंजाब की आम जनता का कोई चिंता नहीं है।

क्योंकि कच्चे मुलाजिमों द्वारा नए बने मुख्यमंत्री व ट्रांसपोर्ट मंत्री पंजाब से बैठक भी की गई तथा उनको उमा देवी की जजमेंट बारे तथा पंजाब में 5178 टीचर, एसएसए रमसा अध्यापक, सीएसएस हिंदी टीचर, आदर्श माडल स्कूल अध्यापक, पावरकॉम के लाइनमैन, यह सारे पंजाब सरकार ने पक्के किए हैं। लेकिन रोडवेज कर्मियों की मांगों की ओर ध्यान नहीं दिया।

उन्होंने कहा कि 15 नवंबर को मुख्यमंत्री की रिहायश आगे प्रदर्शन किया जाएगा। रमनदीप सिंह ने कहा कि कच्चे मुलाजिमों की मांगों को हल करने की बजाए पर्चे दर्ज करना, नौकरियों से निकालने की धमकियों के बाद अब पंजाब सरकार द्वारा आउटसोर्सिंग पर भर्ती करने का प्रयास किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि यूनियन सरकार की धक्केशाही को अब बर्दाश्त नहीं करेगी। इस मौके पर टहल सिंह, सेवक सिंह, विनोद कुमार, जशनप्रीत सिंह, सुखपाल सिंह, कर्मवीर सिंह, सतनाम सिंह, गुरजंट सिंह आदि पदाधिकारी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...