सुसाइड / सांझीदार ने नहीं दिया फसल का हिस्सा किसान ने दुखी होकर की आत्महत्या

X

  • किसान की दस एकड़ ठेके वाली जमीन चोरी से ठेके पर ले ली

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

मोगा. जमीन ठेके पर लेकर बीजी गेहूं की फसल बाद में सांझीदार ने आढ़ती को बेच दी पर बेची फसल की आधी राशि किसान को न देने पर दुखी होकर किसान ने आत्महत्या कर ली।  थाना निहाल सिंह वाला के एएसआई बेअंत सिंह ने बताया कि गांव धूड़कोट रणसींह निवासी मनजिंदर सिंह ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि उसने व उसके पिता गुरजंट सिंह (60) से चार एकड़ जमीन सुखदेव सिंह निवासी रणसींह कलां से ठेके पर ली थी। जबकि दस एकड़ जमीन सुखदेव सिंह निवासी धूडकोट रणंसीह से ली थी।

दस किले जमीन में उसने गुरप्रीत सिंह को सांझीदार रखा था। उनके द्वारा मिलकर गेहूं की फसल बीजी गई थी। बाद में फसल की कटाई करने के बाद 18 अप्रैल को गेहूं निहाल सिंह वाला के आढ़ती को बेच दी थी। लेकिन गुरप्रीत सिंह ने बेची फसल का आधा हिस्सा नहीं दिया। वह बार-बार उससे अपने हिस्से की राशि मांग रहा था। इसके अलावा गुरप्रीत सिंह ने अपने जमींदार जिसके पास वह सीरी के तौर पर काम करता था, उससे मिलीभगत करके दस एकड़ जमीन जोकि उनके द्वारा ठेके पर लेकर खेती कर रहे थे, गुरप्रीत सिंह ने सुखदेव सिंह के साथ मिलकर तीन मई को जमीन मालिक सुखदेव सिंह को 60 हजार रुपए दे दिए।

इसी के चलते उसके पिता गुरजंट सिंह परेशान रहने लगे। उसके पिता एक ही बात कहते थे। उनके साथ धोखा हुआ है। पहले उक्त लोगों ने मिलीभगत करके फसल की आधी राशि हड़प ली। बाद में दस एकड़ जमीन ठेके पर लेकर उनको बर्बाद कर दिया। इसी बात से दुखी होकर 21 मई की दोपहर को उसके पिता ने कीटनाशक निगल ली। निहाल सिंह वाला के निजी अस्पताल में 21 मई की दोपहर को तीन बजे मौत हो गई। पुलिस ने उसके बयान पर सुखदेव सिंह व उसके सीरी गुरप्रीत सिंह के खिलाफ धारा 306, 506, 34 के तहत केस दर्ज करके उनको गिरफ्तार कर लिया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना