रेलवे स्टेशन जैतो से मिले दो बच्चे:चाइल्डलाइन की मदद से पुलिस ने अभिभावकों तक पहुंचाए

मोगा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के सहयोग से संचालित नेचुरल केयर चाइल्ड लाइन फरीदकोट की टीम को जैतो रेलवे पुलिस प्रभारी गुरमीत सिंह ने सूचना दी कि उन्हें रेलवे स्टेशन जैतो से लावारिस हालत में घूम रहे दो बच्चे मिले हैं। इनकी उम्र 11 और 12 वर्ष बता रहे हैं।

सूचना मिलते ही मामले की जानकारी बाल भलाई कमेटी के चेयरमैन हरदास सिंह को दी गई। इंचार्ज गुरमीत सिंह थाना जैतो बच्चों के लेकर फरीदकोट जीआरपी में आए जहां जीआरपी थाना फरीदकोट प्रभारी सुखदेव सिंह लाडा की उपस्थिति में पुलिस कार्रवाई कर बच्चों को एक रात के अस्थायी आश्रय के लिए श्री राधा कृष्ण धाम में रखा गया।

चाइल्ड लाइन टीम ने बच्चों से बातचीत कर उनके पारिवारिक सदस्यों का पता लगवाया। बातचीत के दौरान जानकारी मिली कि बच्चे जगराओं के रहने वाले हैं और बच्चों के माता-पिता सूचना मिलने के बाद उन्हें लेने को आ रहे हैं। दोनों बच्चों के अभिभावकों को चेयरमैन और कमेटी के सामने पेश कर कानूनी औपचारिकता पूरी करने के बाद उनके माता-पिता के सुपुर्द किया गया।

इस दौरान सीडब्ल्यूसी कमेटी सदस्य एडवोकेट अविनाश कौर, तजिंदरपाल कौर, रत्तन सिंह,चाइल्ड लाइन टीम कॉर्डिनेटर सोनिया रानी, पूजा कुमारी, पलविंदर कौर, मनदीप सिंह, ज्योति बाला, सुभाष मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...