पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रॉबिनहुड आर्मी के वालंटियर बने मिसाल:झुग्गी-झोपड़ी में शिक्षा की लौ जला रहे, मेडिटेशन और नैतिक आचरण का पढ़ा रहे पाठ

बठिंडा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आर्मी के वालंटियर जरूरतमंदों तक खाना पहुंचाने के बाद बच्चों की जिंदगी संवारने का लिया संकल्प

बिना पैसे खर्च किए लाखों का पेट भर रही है रॉबिनहुड आर्मी ने अब बच्चों को पढ़ाने का बीड़ा उठाया है। पिछड़ी बस्तियों व झुग्गियों में शिक्षा की लौ जलाने का इनका प्रयास रंग ला रहा है कि अब बच्चे खुद क्लास का इंतजार करते हैं और दुहराई व होम वर्क भी पूरी दिलचस्पी से करके लाते हैं। बच्चों में जहां स्कूल जाने की इच्छा जताने लगे हैं, वहीं इनके अभिभावकों में भी अक्षरज्ञान की ललक जगी है।

बच्चों को पढ़ाने से पहले मेडिटेशन करवाया जाता है, वहीं उन्हें नैतिक शिक्षा का पाठ भी पढ़ाते हुए खाने-पीने व आचार-विहार का सलीका सिखाया जा रहा है जिसके अपेक्षित परिणाम सामने आने लगे हैं।

12 बच्चों का स्कूल में दाखिले के लिए चयन, किताबें, कापियां व स्टेशनरी भी दी जाती है

हर रविवार को गर्मी के दिनों में 3 से 5 जबकि सर्दियों मे 2 से 4 बजे तक पढ़ाई कराई जाती है। बच्चों को किताबें, कापियां व स्टेशनरी भी उपलब्ध कराई जाती है। लगभग 12 बच्चों का स्कूल में दाखिला करवाने के लिए चयन किया गया है जिनके सारे डॉक्यूमेंट इकट्ठा किए जा चुके हैं। रॉबिन हुड आर्मी के प्रयासों से इसी साल एक जरूरतमंद बच्ची का 12वीं में दाखिला भी करवाया गया जोकि पढ़ाई में पूरी दिलचस्पी ले रही है।

डॉक्टर, वकील, अध्यापक सीए व विद्यार्थी वालंटियर

रॉबिनहुड आर्मी के एडवोकेट सुमित मुंजाल बताते हैं कि बठिंडा के 70 वालंटियर निष्काम भाव से सेवाएं दे रहे हैं जिनमें चार्टर्ड एकाउंटेंट, डॉक्टर, वकील, अध्यापक, बिजनेसमैन व विद्यार्थी शामिल हैं। अतिरिक्त भोजन को बर्बाद न होने देने और जरूरतमंद तक पहुंचाकर उनकी भूख मिटाने के जुनून में होटल, रेस्टोरेंट व मैरिज पैलेस में देर रात तक सरप्लस खाना एकत्र करने पहुंचते हैं और उसे पैक करके जरूरतमंद लोगों तक पहुंचाते हैं। वहीं दिन के समय अलग-अलग होटलों व रेस्टोरेंट की मदद से भी पिछड़े इलाकों में खाना देकर जाते हैं।

दो कलस्टर में पढ़ रहे 70 से ज्यादा बच्चे, पिछले साल अक्टूबर में शुरुआत

पिछड़े इलाके व झुग्गियों में रहने वाले बच्चों की जिंदगी सवारने की मंशा से बीते साल अक्टूबर में कच्ची थर्मल कॉलोनी में पारूल, निशा व अभिषेक ने पहले एकेडमिक कलस्टर की शुरुआत की जहां इन दिनों नर्सरी, एलकेजी से लेकर 7वीं तक के 28 बच्चे पढ़ाई करते हैं जिनमें से 18 बच्चे तो स्कूल भी जाते हैं। बच्चों की ओर से दिखाए उत्साह से बढ़े आत्मविश्वास के साथ जतिन, निशा ने लगभग 4 महीने पहले ही मलोट रोड ओवरब्रिज के नीचे दूसरे एकेडमिक कलस्टर शुरू किया।

जिसमें 35 बच्चे पढ़ रहे हैं जोकि छोटे होने की वजह से भले ही स्कूल नहीं जाते लेकिन पढ़ने में पूरी दिलचस्पी ले रहे हैं। दोनों कलस्टर में रॉबिन हुड आर्मी के वालंटियर संदीप, विजय, प्रिया, जयति, रिशु, नीरज, अंकुर, सक्षम व माधव भी शेड्यूल के मुताबिक इन बच्चों को पढ़ाते हैं। वहीं तानिया बच्चों को मेडिटेशन के जरिए ध्यान क्रिया का अभ्यास करवाती हैं।

सेहत के प्रति जागरूक करने का प्लान

रॉबिन हुड आर्मी की ओर से पिछड़े इलाके के लोगों को कोविड 19 की गाइडलाइंस के प्रति जागरूक करने के लिए जागरूकता कार्यक्रम चलाया जाएगा। इसके लिए विशेषज्ञ डॉक्टर की सहायता से हाइजीन रहने के अलावा सफाई आदि के प्रति जागरूक किया जाएगा।

वहीं महिलाओं को जागरूक करने के लिए भी वुमेन एकेडमी चलाई जा रही है जहां प्रिया व मानवी की ओर से महिलाओं को कोई भी सामान खरीदते समय उसका रेट व एक्सपायरी के बारे में बताया जा रहा है ताकि वे मनी मैनेज करना सीखकर किसी प्रकार की ठगी का शिकार होने से बचें।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser