पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस की दादागिरी:प्रताप नगर में अंडे की रेहड़ी लगाने वाले नाबालिग को कैनाल पुलिस ने मारे डंडे, अस्पताल में दाखिल

बठिंडाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • युवक सरकारी अस्पताल में दाखिल, बोला- पिता के इलाज और पढ़ाई के खर्च के लिए करता हूं काम

प्रताप नगर गली नंबर 26 के पास अंडे की रेहड़ी लगाने वाले एक 16 साल के युवक पर कैनाल पुलिस ने वीरवार की रात कहर बरपाया। एसएचओ की गाड़ी में आए पुलिस मुलाजिमों ने युवक की पीठ पर डंडे बरसाए और उसके गुप्तांग पर लाते मारीं। युवक को पीटते देख मौके पर पहुंचे एक पत्रकार ने छुड़वाया तो तब जाकर पुलिस मुलाजिम हटे। युवक को सरकारी अस्पताल में दाखिल करवाया गया है जहां युवक की पीठ पर डंडों के निशान बयां करते हैं कि उसकी किस कदर पिटाई की गई जब कि उसका कोई कसूर नहीं था।

युवक ने पुलिस-प्रशासन से इंसाफ की गुहार लगाई है। युवक की पहचान नवीन कुमार के तौर पर हुई है। शुक्रवार को युवक पर बरपे पुलिस के कहर की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होते ही कैनाल पुलिस के एसएचओ समेत अन्य पुलिस मुलाजिम मामले को निपटाने के लिए प्रयास करते रहे।

देर सांय तक पुलिस मुलाजिम परिवार से संपर्क बनाए हुए थे। पत्रकार अनिल वर्मा ने बताया कि मैंने बाहर आकर देखा तो एसएचओ कैनाल रेहड़ी वाले युवक को पीट रहे थे। मैंने खुद जाकर एसएचओ को रोककर बीच बचाव किया। उधर इस घटना के बारे में जब एसएचओ कैनाल थाना अमृतपाल सिंह से बात की गई तो उनका कहना था कि वहां पर ऐसी कोई बात नहीं हुई। मैं तो उक्त युवक को जानता तक नहीं हूं।

अचानक गाड़ी आकर रुकी और आते ही एसएचओ और मुलाजित मुझ पर टूट पड़े : नवीन
प्रताप नगर गली नंबर 26 के पास शराब के ठेके के नजदीक अंडे व मीट की रेहड़ी लगाने वाले नवीन कुमार ने बताया कि वो 12वीं का छात्र है और पार्ट टाइम रेहड़ी लगाता है क्योंकि उसके पिता तीन साल से बीमार चले हैं,घर में कोई कमाने वाला नहीं है इसलिए वो पिता के दवा का खर्च और अपनी पढ़ाई की फीस निकालने के लिए शाम के समय अंडे की रेहड़ी लगाता है।

नवीन ने बताया कि वीरवार शाम साढ़े 7 बजे का समय होगा। अचानक पुलिस की गाड़ी आकर रूकी। इससे पहले कि वो कुछ समय पाता कि गाड़ी से निकले एसएचओ और पुलिस मुलाजिमों ने इतना कहते हुए रेहड़ी पर शराब पिलाता है,उस पर टूट पड़े। उसी पीठ पर लगातार कई डंडे मारे।

वो चीखता चिल्लाता रहा कि वो शराब नहीं पिलाता लेकिन उसकी एक न सुनी और उसे पीटते रहे। नवीन ने बताया कि पुलिस ने उसकी पीठ पर डंडे मारने के अलावा उसके गुप्तांग पर लातें मारीं। शराब पीने वाले लोग उसकी रेहड़ी से सामान आदि लेकर सामने खाली प्लाट या आस-पास खड़े होकर शराब पीकर चले जाते हैं जब कि वो रेहड़ी पर किसी को शराब पीने नहीं देता। युवक के पिता ने कहा कि बेटे को इंसाफ चाहिए।

खबरें और भी हैं...