पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

समस्या:सीवरेज मिक्स वाटर सप्लाई करने की शिकायत, बीमारियां फैलने का खतरा

मानसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गंदे पानी की बार-बार शिकायत के बावजूद नहीं हुआ सुधार, लोगों में आक्रोश

जम्हूरी अधिकार सभा ने सीवरेज और वाटर सप्लाई विभाग पर शहर निवासियों को सीवरेज से मिक्स वाटर सप्लाई करने का आरोप लगाया है। सभा के जिला प्रधान एडवोकेट बलकरन सिंह बल्ली और जिला कमेटी मैंबर धन्ना मल्ल गोयल ने कहा कि शहर के गांधी स्कूल वाली वाटर सप्लाई की टंकी के पास सड़क पर वाटर सप्लाई के बने प्वाइंट से शहर के बड़े हिस्से को वाटर वर्क्स का पानी सप्लाई किया जाता है। वाटर सप्लाई के प्वाइंट के पास ही सीवरेज का ढक्कन लगा हुआ है जहां से सीवरेज की सफाई न होने के कारण और सीवरेज ओवरफ्लो होने से सीवरेज का पानी लीक होकर सड़क पर फैल जाता है। जिसके साथ वाटर सप्लाई के प्वाइंट वाले स्थान पर भी सीवरेज वाला पानी भर जाता है जो वहा वाटर सप्लाई में मिल जाता है, जिस के चलते शहर में साफ पानी के बजाय सीवरेज मिक्स हुआ गंदा पानी सप्लाई हो रहा है। नेताओं ने कहा कि सीवरेज के पानी की लीकेज कारण सड़क भी पूरी तरह टूट चुकी है और वहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को भी काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, वहीं सड़क पर जमा गंदे पानी से बदबू आती है। जिसके साथ बीमारियां फैलने का डर बना हुआ है। जिला कमेटी मैंबर गोरा लाल अतला, महिंदरपाल और हरबंस सिंह ने कहा कि इस तरह ही मुख्य वाटर वर्क्स में भी टंकों की सफाई का बुरा हाल है। जहां वाटर टंक के आसपास गाजर बूटी और घास उग चुका है, जिस पर विभाग द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। सभा की जिला इकाई मानसा ने मांग की कि गांधी स्कूल के पास वाटर सप्लाई के प्वाइंट को सीवरेज प्वाइंट के पास से बदलकर वाटर सप्लाई की टंकी के पास खालसा स्कूल के ग्राउंड में बनाने के अलावा सीवरेज के लीकेज को रोकने के लिए सीवरेज की सफाई करवाई जाए और सीवरेज लीकेज रोकने के लिए गंदे पानी की निकासी का ठोस प्रबंध करने के साथ टूट चुकी सड़क को दोबारा बनाया जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें