पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सरकार के खिलाफ की नारेबाजी:किसानों ने एफसीआई दफ्तरों का किया घेराव ,सरकार के खिलाफ की नारेबाजी, फैसला वापस न लेने पर जत्थेबंदी मंडियों में आए अधिकारियों का करेगी घेराव

मानसा15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे संघर्ष के तहत साेमवार काे किसानों ने एफसीआई के जिला स्तरीय दफ्तर के अलावा जिले भर के दफ्तरों का घेराव करते हुए रोष प्रदर्शन किया। मानसा दफ्तर के बाहर धरने को संबोधनकरते जत्थेबंदी के जिला प्रधान राम सिंह भैणीबाघा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों ने किसानी को तबाह करना ही है। उसके बाद भी केंद्र सरकार द्वारा तानाशाही तरीके से फैसला करते सरकारी खरीद एजेंसियों को दिन प्रतिदिन कमजोर किया जा रहा है। बेशक 25000 एपीएमसी मंडियों को खत्म करना हो, या फसल की सरकारी खरीद संबंधित शर्तों को सख्त करना हो या फिर एफसीआई में खाली पड़े पदों को न भरने का गैर जिम्मेदार रवैया हो, इन सभी बातों से जाहिर है कि केंद्र की हुकूमत एफसीआई जैसी सरकारी खरीद एजेंसियां जनतक बांट प्रणाली अाैर एपीएमसी मंडियों का भोग डालने पर तुली हुई है। किसान

नेता ने कहा कि केंद्र सरकार ने एफसीआई को हिदायत कर दी है कि जो किसान गेहूं बेचने के लिए मंडियों में लेकर आएंगे। उन किसानों से जमीन का रिकार्ड जमाबंदी ली जाए। जिसको बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। धरने के जरिए जत्थेबंदी मांग करती है कि उपरोक्त कमियों अाैर मांगों को पूरा किया जाए, नहीं तो मजबूरन जत्थेबंदी मंडियों में आए अधिकारियों का घेराव करेगी। इस मौके पर भान बरनाला, साधू अलीशेर, मेजर गोबिंदपुरा, दर्शन मंडेर, लीलु भंम्मे कलां, गुरप्रीत सिंह, मनप्रीत कौर भैणीबाघा, जगसीर जवाहरके, रमनदीप सिंह ने भी संबोधन किया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें