घेराव:स्पोर्ट्स स्कूल घुद्दा के निजीकरण के विरोध में वित्तमंत्री मनप्रीत बादल का दफ्तर घेरा

बठिंडा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बठिंडा में वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल के दफ्तर के आगे धरना लगाकर रोष प्रदर्शन करते स्पोर्ट्स स्कूल घुद्दा के कर्मचारी व स्टूडेंट। - Dainik Bhaskar
बठिंडा में वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल के दफ्तर के आगे धरना लगाकर रोष प्रदर्शन करते स्पोर्ट्स स्कूल घुद्दा के कर्मचारी व स्टूडेंट।

सरकार की ओर से पंजाब के इकलौते सरकारी स्पोर्ट्स स्कूल घुद्दा के निजीकरण का विरोध जताते हुए वीरवार को वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल के दफ्तर के आगे धरना लगाकर प्रदर्शन किया गया। रोजगार्डन से निकाले रोष मार्च में सैकड़ों की संख्या में स्कूल स्टाफ, बच्चे, अभिभावक और विभिन्न अध्यापक व किसान संगठनों के नेताओं ने शिरकत की। दोपहर 12 से 3 बजे तक चले धरना-प्रदर्शन के दौरान वित्तमंत्री दफ्तर के इंचार्ज के साथ बैठक करने के लिए संगठनों ने इनकार कर दिया।

रैली में एसएचओ कोतवाली दलजीत बराड़ ने पहुंचकर वित्तमंत्री के साथ बैठक करवाने का भरोसा देने पर रैली खत्म हुई। मनप्रीत बादल के दफ्तर के सामने लगे वाहनों को हटाने से लेकर दरी बिछाने तक में अध्यापकों ने सेवाएं दी। गगनदीप सिंह, अशवनी, बलजिंदर सिंह व मोठू सिंह कोटड़ा ने कहा कि बादल सरकार के समय 2011 में बने स्पोर्ट्स स्कूल को सरकार निजी हाथों में सौंपने की तैयारी कर रही है। स्कूल में अधिकांश विद्यार्थी हॉस्टलर हैं, लेकिन अभी तक हॉस्टल नहीं खोला गया जबकि 55 स्टाफ मेंबरों को 6 महीने से वेतन नहीं दिया जा रहा। लगभग 3.5 करोड़ रुपए का सालाना बजट वाले स्कूल के खाते में जमा 18 करोड़ रुपए की सब्सिडी तुड़वाकर 1 करोड़ रुपए मैस के बिल की अदायगी की गई। विद्यार्थियों को मिलने वाली खुराक का प्रबंध नहीं है। निजीकरण की नीति के कारण खाली पोस्टों को भरने के प्रयास नहीं किए जा रहे।

उन्होंने सवाल उठाया कि जब प्रदेश के तमाम स्कूल खोल दिए गए हैं तो इस स्कूल व हॉस्टल को बंद रखना सरकार की नीयत को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि पंजाब विधानसभा का बजट सेशन चल रहा है, 8 मार्च को पेश होने वाले बजट में स्कूल के आर्थिक हालात का मसला भी विचार किया जाना चाहिए। प्रदर्शन में ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चा के जगरूप सिंह, मनरेगा कर्मचारी यूनियन से प्रधान वरिंदर सिंह, विद्यार्थी एकता कमेटी के गुरप्रीत सिंह, पंजाब स्टूडेंट्स यूनियन शहीद रंधावा के अमितोज सिंह, शहीद भगत सिंह वेलफेयर क्लब जय सिंहवाला के जगतार सिंह, फिजिकल एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स यूनियन के जगदीश कुमार, एसएसए रमसा अध्यापक यूनियन के हरजीत, स्कूल के विद्यार्थी और अभिभावकों में सतविंदर सिंह, बाबा तेजा सिंह क्लब बंबीहा, दोधी डेयरी यूनियन के हरजिंदर सिंह, सीटू के कुलजीत सिंह, ठेका मुलाजिम संघर्ष कमेटी से रामबारन व लोक मोर्चा पंजाब के मास्टर जगमेल सिंह व सुखविंदर सिंह शामिल हुए।

खबरें और भी हैं...