पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना संक्रमण:मुक्तिधाम के सफर में सारथी बने संस्था वर्कर, अब तक कर चुके 411 अंतिम संस्कार

बठिंडा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अपनों के बीच बढ़ रही हैं दूरियां, सहारा जनसेवा और नौजवान सोसायटी कोरोना मरीजों की सेवा में जुटी

कोरोना महामारी के पैर फैलाते ही मौत का आंकड़ा बढ़ गया है ऐसे में अपनों के बीच दूरियां बढ़ रही हैं। स्थिति ये हैं कि किसी खास की मौत पर भी लोग शोक जताने नहीं जा रहे हैं। दाह-संस्कार में सिर्फ परिवार के लोग ही पहुंच रहे हैं वो भी दूर से ही मृतक देह के अंतिम दर्शन कर रहे हैं। ऐसे में अंतिम संस्कार की मात्र औपचारिकता निभाई जा रही हैं। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए यह जरूरी भी है।

इन परिस्थितियों में कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो सेवाभाव से मुक्तिधाम (श्मशान गृह) के सफर के सारथी की भूमिका निभा रहे हैं। यह लोग कोरोना पॉजिटिव मृतकों का अंतिम संस्कार करने में लगे हुए हैं। कोरोना ने इस कदर अपनों में दूरियां पैदा कर दी हैं कि लोग दुनिया छोड़कर गए अपनों के अंतिम दर्शन तक नहीं कर रहे हैं। ऐसे में समाजसेवी संस्थाओं के कोरोना वारियर्स ही हैं जो मृतकों के पारिवारिक सदस्य ही बनकर अंतिम संस्कार की सभी रस्मे निभा रहे हैं। हम बात कर रहे हैं शहर की समाजसेवी संस्थाओं सहारा जनसेवा और नौजवान सोसायटी के वालंटियरों की जो असल में कोरोना योद्धा के रूप मानवता की मिसाल पेश कर रहे हैं। बता दें कि पंजाब में बठिंडा ही ऐसा शहर होगा जहां समाजसेवी संगठनों के वालंटियर कोरोना से मरने वालों के अंतिम संस्कार करने में पूरी सिद्दत से जुटे हुए हैं।

संक्रमितों को अस्पताल ले जाने से लेकर अंतिम संस्कार तक का फर्ज निभा रहे

वैश्विक महामारी कोरोना से खुद को बचाकर किसी संक्रमित व्यक्ति का दाह संस्कार कराना जोखिम भरा काम है। मगर इस काम में दोनों ही संस्थाओं के वर्कर आगे आकर अपनी जिंदगी की परवाह न करते हुए मानवता की मिसाल पेश कर रहे हैं। सहारा जनसेवा और नौजवान सोसायटी के वर्कर पिछले कोरोना काल से लेकर लगातार कोरोना मृतकों का संस्कार कर रहे हैं। जिले में अब तक 411 के करीब कोरोना से लोगों की जान चुकी है। जिनका दोनों संस्थाओं के वर्करों की ओर से संस्कार किया गया है। हालात ये हैं कि किसी भी कोरोना मरीज का देहांत होता है तो उसे घर से लेकर श्मशानघाट तक लाने का सारा काम संस्थाओं के वर्कर ही कर रहे हैैं। कोरोना की दूसरी लहर में हर दिन 10-20 लोगों की मौत हो रही है। संस्थाओं के वालंटियर निष्काम भाव से प्रोटोकाल के अनुसार संस्कार कर रहे हैं।

सहारा जनसेवा - वालंटियर 24 घंटे सेवा में तैनात

सहारा जनसेवा के प्रधान विजय गोयल की देखरेख में कोरोना वारियर्स पंकज सिंगला, गौरव कुमार, गौतम, हरबंस सिंह, टेक चंद, जग्गा सहारा, विजय कुमार विक्की, राजेंद्र कुमार, सुमीत ढींगरा, संदीप गोयल, कमल गर्ग, अर्जुन कुमार, सिमर गिल, संदीप गिल, मनी कर्ण, राजेंद्र कुमार, शिवम राजपूत, तिलकराज, सूरजभान गुनी सुबह से लेकर देर रात तक कोरोना मृतकों का संस्कार कर मानवता का फर्ज निभा रहे हैं।

नाैजवान सोसायटी - वालंटियर हर समय सेवा के लिए तत्पर

प्रधान सोनू माहेश्वरी के नेतृत्व में उनकी टीम में शामिल हरप्रीत सिंह नोनी,कमल वर्मा, सुखप्रीत सिंह, जिनेश जैन, गौतम शर्मा, भूषण बांसल, रवि बांसल, सोम शर्मा, साहिब सिंह, आशीष गुप्ता, भारत सिंह, रमनदीप सिंह, राकेश कांसल, मेजर सिंह,मोनू शर्मा, गोलू नथानी, मुनीष गर्ग, रोहित गर्ग, सोनू माहेश्वरी, दीपक बांसल, जगदीप गिलपत्ती, राजविंदर धालीवाल,अंकित, आशु गुप्ता, राकेश जिंदल, मनिक गर्ग, मंजोत जौड़ा, इशू सिंगला, दीपक गोयल शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें