पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सांसों की संजीवनी पर ऑनलाइन पहरा:अब ऑक्सीजन कंटेनर में जीपीएस ट्रैकिंग डिवाइस लगाना अनिवार्य

बठिंडाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंत्रालय ने घोषणा की है कि ऑक्सीजन ले जाने वाले सभी कंटेनरों, टैंकरों और वाहनों को एआईएस140 के अनुसार वाहन स्थान ट्रैकिंग डिवाइस उपकरणों के साथ फिट करने की आवश्यकता होगी। - Dainik Bhaskar
मंत्रालय ने घोषणा की है कि ऑक्सीजन ले जाने वाले सभी कंटेनरों, टैंकरों और वाहनों को एआईएस140 के अनुसार वाहन स्थान ट्रैकिंग डिवाइस उपकरणों के साथ फिट करने की आवश्यकता होगी।
  • सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने दिए आदेश

देश में कोरोना वायरस के बेकाबू होते मामलों के बीच ऑक्सीजन की किल्लत और सप्लाई में होने वाली देरी को देखते हुए सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने ऑक्सीजन ले जाने वाले सभी ऑक्सीजन कंटेनर/टैंकर/वाहनों में व्हीकल लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइस का होना अनिवार्य कर दिया है।

मंत्रालय ने घोषणा की है कि ऑक्सीजन ले जाने वाले सभी कंटेनरों, टैंकरों और वाहनों को एआईएस140 के अनुसार वाहन स्थान ट्रैकिंग डिवाइस उपकरणों के साथ फिट करने की आवश्यकता होगी। सरकार ने कहा है कि ऐसे उपकरण ऑक्सीजन टैंकरों की उचित निगरानी और सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे, और इनके अपने गंतव्य स्थान तक पहुंचने में कोई डायवर्जन या देरी नहीं होगी। सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने बीती 4 मई को अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर इस बारे जानकारी दी है।

क्या है जीपीएस सिस्टम

जीपीएस एक ऐसा सिस्टम है जिसकी मदद से टैंकरों के संचालन का वास्तविक समय और उनकी लोकेशन को एक क्लिक के साथ अधिकारी पता कर लेते हैं। इसकी मदद से टैंकर के आने-जाने का सही समय और लोकेशन दिखती है।

खबरें और भी हैं...